×

बिहार उपचुनाव : भभुआ सीट को लेकर राजद-कांग्रेस में दरार

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 13 Feb 2018 11:27 AM GMT

बिहार उपचुनाव : भभुआ सीट को लेकर राजद-कांग्रेस में दरार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

पटना : बिहार में एक लोकसभा सीट और दो विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में भभुआ विधानसभा सीट को लेकर राजद और कांग्रेस पार्टी आमने-सामने आ गई है, जिससे पूरे देश में विपक्षियों को एक करने के प्रयास को एक बार फिर झटका लगा है।

बिहार कांग्रेस विधायक दल के नेता सदानंद सिंह ने यहां मंगलवार को स्पष्ट कर दिया कि राजद अगर भभुआ सीट पर अपने उम्मीदवार उतारती भी है, तब भी कांग्रेस अपना उम्मीदवार उतारेगी।

राजद द्वारा तीनों सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा को गठबंधन धर्म के विपरीत बताते हुए उन्होंने कहा, "एकतरफा कोई दल निर्णय ले ले तो यह गठबंधन धर्म नहीं हैं। मैं आलाकमान से कहना चाहता हूं कि पार्टी को भी यहां प्रत्याशी उतारने की इजाजत दी जाए, इस बार अपनी-अपनी शक्ति की आजमाइश हो जाए।"

ये भी देखें : महागठबंधन: निगलते बन रहा न उगलते, करें तो क्या कुशवाहा

राजस्थान उपचुनाव में जीत से उत्साहित कांग्रेस के नेता ने तो राजद को चुनौती देते हुए कहा कि कांग्रेस अब राजद को अपनी ताकत दिखाएगी।

उन्होंने कहा, "भभुआ सीट पर कांग्रेस का प्रत्येक कार्यकर्ता चुनाव लड़ना चाहता है। हम लोग इस स्थिति में हैं कि भभुआ सीट पर राजद के उम्मीदवार के मैदान में होने के बावजूद हम विजयी होंगे।"

उल्लेखनीय है कि राज्य के अररिया लोकसभा तथा भभुआ व जहानाबाद विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव की घोषणा हो चुकी है। 11 मार्च को यहां मतदान होना है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story