Top

BSF का जवान फिरोजपुर से अरेस्ट, सड़कों की तस्वीर ISI को भेजीं

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 4 Nov 2018 12:46 PM GMT

BSF का जवान फिरोजपुर से अरेस्ट, सड़कों की तस्वीर ISI को भेजीं
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

फिरोजपुर : इंडो-पाक सीमा पर लगी बाड़ और संवेदनशील सड़कों की तस्वीरें पाकिस्तानी एजेंट के साथ साझा करने के आरोप में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवान शेख रैजुद्दीन को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बताया, इंटेलिजेंस पिछले कुछ महीनों से इस जवान पर नजर रख रही थी।

ये भी देखें : 16 साल बाद जेल से रिहा हुआ पाकिस्तानी कैदी जलालुद्दीन, वतन लौटते वक्त साथ ले गया गीता

मिली जानकारी के मुताबिक गिरफ्तार जवान रैजुद्दीन महाराष्ट्र के रेनपुरा गांव का रहने वाला है रैजुद्दीन बीएसएफ की 29 वीं बटैलियन में पंजाब के फिरोजपुर सेक्टर में तैनात था।

ये भी देखें : अखिलेश ले रहे इंटरनेशनल क्रिकेट मैच मुकाबले का क्रेडिट, जानिए कैसे?

ये भी देखें : कांग्रेस आजादी के लिए गोरों से लड़ी, अब चोरों से लड़ेगी : कमलनाथ

ये भी देखें : वायरल वीडियो : #CriminalKamalnath को आपराधिक छवि वाले नेता पसंद हैं ?

क्या है मामला

पुलिस ने बताया, रैजुद्दीन ने आईएसआई के एजेंट मिर्जा फैसल से बाड़ और सीमावर्ती सड़कों की तस्वीरें, वरिष्ठ अधिकारियों का फोन नंबर और अन्य खुफिया सूचनाएं कथित तौर पर साझा की थी। आरोपी ने ये सूचना अपने मोबाइल फोन से साझा की थीं।

रैजुद्दीन के खिलाफ ममदूत थाने में गोपनीयता कानून और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story