×

Newstrack से UN ने कहा गलती के लिए माफी, अनजाने में किए गए ट्वीट

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 5 Oct 2017 12:30 AM GMT

Newstrack से UN ने कहा गलती के लिए माफी, अनजाने में किए गए ट्वीट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

योगेश मिश्र योगेश मिश्र

न्यूजट्रैक की खबर ‘बढ़ी मुश्किलें ! राम रहीम, हनी को भेजा गया UN का Tweet निकला फर्जी ’ का संज्ञान लेते हुए संयुक्त राष्ट्र की संस्था यूएन वाटर ने अपने जवाब में न्यूजट्रैक डॉट कॉम को बताया कि वह आभारी हैं कि इस खबर को न्यूजट्रैक ने उन तक पहुंचाया और साथ ही उन्होंने इस गलती के लिए अपने समर्थकों से माफी भी मांगी है।

ये थी खबर :बढ़ी मुश्किलें ! राम रहीम, हनी को भेजा गया UN का Tweet निकला फर्जी

यूएन वाटर के कम्यूनिकेशन मैनेजर डेनियला बौस्ट्रॉम कॉफे ने अपने जवाब में न्यूजट्रैक को बताया कि वह अपनी सफाई में यह कहना चाहते हैं कि ऐसे 40 हजार लोगों की एक सूची है जो स्वच्छता अभियान में कारगर हो गये है। वर्ल्ड टायलेट डे पर इन प्रभावकारी लोगों की सूची के हिसाब से मदद मांगी गयी थी इन्हीं में हनीप्रीत और रामरहीम इंसान को ट्वीट भेजे गये थे। उस समय संस्था को वस्तुस्थिति का पता नहीं था और अब इसका पता लगते ही इसे हटा दिया गया है।

न्यूजट्रैक के इस मुद्दे को उठाने के बाद सारे सवाल को यूएन इन्फारमेशन सेंटर दिल्ली को भेज दिया गया है जो वर्ल्ड टायलेट डे कैंपेन के पार्टनर भी हैं।

दरअसल न्यूजट्रैक डॉट कॉम ने यूएन संस्था के वर्ल्ड टायलेट डे पर हनीप्रीत और बाबा राम रहीम से मदद की अपील की थी। इस खबर को सबसे पहले और प्रमुखता से न्यूजट्रैक ने उठाया जिसके बाद यह ट्वीट हटा लिया गया है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story