×

अब्दुल्ला ने लगाए थे भारत माता की जय के नारे, मिली जूते वाली ईदी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 22 Aug 2018 10:34 AM GMT

अब्दुल्ला ने लगाए थे भारत माता की जय के नारे, मिली जूते वाली ईदी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री व नेशनल कॉन्फ्रेंस अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ यहां बुधवार को एक दरगाह में ईद की नमाज के दौरान नारेबाजी की गई, उनके साथ धक्कामुक्की की गई और उन पर जूते तक फेंके गए। इमाम द्वारा हजरतबल दरगाह में ईद की नमाज शुरू कराए जाने से पहले ही अब्दुल्ला को अपने खिलाफ नारेबाजी का सामना करना पड़ा।

कई युवाओं ने उन पर जूते फेंकने भी शुरू कर दिए। इससे अफरा-तफरी का माहौल बन गया, जिसके चलते फारूक को मजबूरन नमाज स्थल से वापस लौटना पड़ा।

ये भी देखें : ‘अटल’ को श्रद्धांजलि देतें हुए इस ट्विट से सलमान खान हुए ट्रोलर्स के शिकार

ये भी देखें : पूरे देश में निकलेगी अटल जी की अस्थि कलश यात्रा

क्या है मामला

दरगाह में इमाम आर्टिकल 35ए के बारे में बात कर रहा था और उसी समय पूर्व सीएम ने वहां प्रवेश किया। इसके बाद वहां मौजूद नमाजी उग्र हो गए। फारुक को वहां से जाने के लिए नारेबाजी होने लगी। प्रार्थना समाप्त होते ही फारूक मस्जिद से बाहर निकलने लगे तो वहां मौजूद लोगों ने जूते हाथों में ले शर्म करो, शर्म करो के नारे भी लगाए। पूर्व सीएम पर जूते भी फेकें गए। इस दौरान लोगों ने जाकिर मूसा और आजादी-आजादी के नारे भी लगाए।

क्यों हुआ विरोध

पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की याद में आयोजित शोक सभा में नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारुक अब्दुल्ला ने अपने भाषण में कहा था कि, अगर अटल को याद रखना है तो इस देश को ऐसा बनाओ, जिसमें प्रेम इतना हो, कि इस देश के सामने दुनिया झुकने आ जाए।

उन्होंने कहा दुनिया कहे कि ये देश है जो प्रेम बांटता है। प्रेम को बांटिए। यही सबसे बड़ी श्रद्धांजलि होगी हमारी अटल बिहारी वाजपेयी के लिए। मुबारक है, इस धरती को जिसने अटल को पैदा किया। मुझे भी उन्हें समझने का वक्त मिला।

पूर्व सीएम ने कहा अल्लाह से दुआ करता हूं कि उन्हीं के रास्ते पर चलकर इस देश को इतना मजबूत बनाऊं कि कोई इस देश को हिला न सके। भारत माता की जय..... भारत माता की....जय के साथ पूरा स्टेडियम गूंज उठा। फारुक ने जय हिंद के साथ भाषण खत्म किया था।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story