×

असम की पहली ट्रांसजेंडर जज बनी स्वाति बी बरुआ, नियुक्ति पर कही ये बात!

suman

sumanBy suman

Published on 15 July 2018 1:00 AM GMT

असम की पहली ट्रांसजेंडर जज बनी स्वाति बी बरुआ, नियुक्ति पर कही ये बात!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

जयपुर:स्वाति बी बरुआ असम की पहली ट्रांसजेंडर जज बनी हैं। वह शनिवार को लोक अदालत में मामलों की मध्यस्ता करने के नियुक्त की गई हैं। वो अभी 26 साल की हैं।यह पद मिलने के बाद उन्होंने कहा कि समाज में बहुत ही ज्यादा भेदभाव है और ये स्वीकार करना की ट्रांसजेंडर समाज का हिस्सा है, इस तरह के कदम मिल का पत्थर साबित होगा।

ट्रांसजेंडर छात्रों को मिलेगा एडमिशन

उन्होंने क हा कि एक जज के पद पर मेरी नियुक्ति समाज के लिए सकारात्मक संदेश है और इस तरह के सराहनीय कदम से समाज में ट्रांसजेंडरों के प्रति नजरिया बदलेगा। स्वाति बी बरुआ का जन्म असम के पांडु शहर में हुई। स्वाति से पहले पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र में ट्रांसजेंडर जज बन चुकी हैं।वहीं जुलाई, 2017 में जोयिता मंडल देश की पहली ट्रांसजेंडर जज बनी थीं. जिससे पश्चिम बंगाल देश का पहला राज्य बन गया था जिसने ट्रांसजेंडर की नियुक्ति की थी। इसके बाद फरवरी, 2018 में विद्या कांबले महाराष्ट्र के नागपुर स्थित लोक अदालत में जज बनीं।

suman

suman

Next Story