×

गुजरात सरकार ने मानी केंद्र की बात, पेट्रोल-डीजल से घटाया 4% VAT

aman

amanBy aman

Published on 10 Oct 2017 6:00 AM GMT

गुजरात सरकार ने मानी केंद्र की बात, पेट्रोल-डीजल से घटाया 4% VAT
X
गुजरात ने मानी केंद्र की बात, पेट्रोल-डीजल से VAT घटाने वाला पहला राज्य बना
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

गांधीनगर: केंद्र सरकार के आह्वान के बाद पेट्रोल-डीजल से वैट घटाने वाला गुजरात देश का पहला राज्य बन गया है। गुजरात के सीएम विजय रूपाणी ने बीते हफ्ते ही इसके संकेत दिए थे। आज (10 अक्टूबर) उन्होंने वैट कटौती का ऐलान कर दिया।

इस मौके पर सीएम रुपाणी ने कहा, कि वह तेल पर लगने वाले वैट में 4 फीसदी की कमी कर रहे हैं। नए वैट दर लागू होने के बाद गुजरात में पेट्रोल 2.93 रुपए जबकि डीजल 2.72 रुपए प्रति लीटर सस्ता हो जाएगा। बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस भी पेट्रोल-डीजल पर वैट घटाने पर विचार कर रहे हैं। यदि ऐसा हुआ तो आने वाले दिनों में अन्य बीजेपी शासित राज्य भी ये कदम उठा सकते हैं।

ये भी पढ़ें ...तेल की कीमतों पर मोदी के मंत्री के बिगड़े बोल, ‘भूखे तो नहीं मर रहे’

धर्मेंद्र प्रधान ने कहा था- अब राज्यों की बारी

दरअसल, केंद्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी दो रुपए कम करते हुए राज्यों से अपील की थी, कि वे तेल उत्पादों से वैट घटाएं जिससे पेट्रोल-डीजल की कीमतें कम हो सकें। पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इसका ऐलान करते हुए कहा था, 'हमने एक्साइज ड्यूटी कम कर दी है। अब राज्यों की बारी है कि वे पेट्रोलियम प्रॉडक्ट्स से वैट कम से कम 5 प्रतिशत कम करें।'

ये भी पढ़ें ...PM मोदी के कार्यक्रम में शाम‍िल होना है, तो ‘आधार’ के बिना नहीं मिलेगी एंट्री

नीतीश ने तो केंद्र को ही सलाह दे दी

हालांकि, कई राज्यों ने यह कहते हुए केंद्र की इस अपील को नकार दिया कि उनके यहां वैट की दर पहले से ही बहुत कम है। बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने तो उलटा केंद्र सरकार को ही सलाह दे दी। सोमवार को नीतीश ने गेंद केंद्र के पाले में डालते हुए पेट्रोलियम पदार्थों की बेस प्राइस कम करने को कहा।



aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story