भारत ने पाक को फिर समझाया, कश्मीर हमारा है, कोई दखल न दे तो बेहतर

Published by Gagan D Mishra Published: September 16, 2017 | 2:31 pm
Modified: September 16, 2017 | 3:02 pm
भारत ने पाक को फिर समझाया, कश्मीर हमारा है, कोई दखल न दे तो बेहतर

नई दिल्ली: भारत ने एक बार फिर से पाकिस्तान की कश्मीर मामले में बोलती बंद कर दी है। इस्लामिक देशों के संगठन ओआइसी में पाक द्वारा कश्मीर मुद्दे को उठाने पर उसे लताड़ लगाते हुए भारत के यूएन में स्थाई मिशन प्रथम सचिव सुमित सेठ ने कहा कि जम्मू और कश्मीर भारत का एक अभिन्न और अविभाज्य हिस्सा है।

भारत ने साफ कहा है कि ओआईसी को भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप का कोई हक नहीं है। इतना ही नहीं नई दिल्ली ने संगठन को भविष्य में इस तरह के संदर्भ बनाने से दूर रहने की सलाह दी।

इससे पहले जेनेवा में पाकिस्तान के स्थायी प्रतिनिधि फारूक आमिल ने पाकिस्तान की तरफ से कश्मीर का मुद्दा उठाया। यूएन में मानवधिकार कमिश्नर जैद राड अल हुसैन ने सोमवार को भारत और पाकिस्तान दोनों की यह कहकर आलोचना की थी कि दोनों देश कश्मीर में तथ्य तलाशने वाली टीम को जाने की इजाजत नहीं देते हैं। आमिल ने हुसैन के आरोपों की आलोचना करते हुए कहा कि अत्याचार और मानवधिकार उल्लंघन भारत के कश्मीर में हुए हैं हमारे कश्मीर में नहीं, इसलिए अल हुसैन का बयान तथ्यों पर आधारित नहीं है।

क्या है ओआईसी
ओआईसी यानि ऑर्गनाइज़ेशन ऑफ़ इस्लामिक कोऑपरेशन, 57 ऐसे देशों का संगठन है जो दुनिया में मुस्लिमों की आवाज बनने के लिए इकट्ठे हुए हैं। ओआईसी की तरफ से पाकिस्तान ने भारत पर जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकार हिंसा और कश्मीरियों के खुद फैसले के अधिकार को नकारने का आरोप लगाया था।