×

घोटालेबाज रेड्डी गिरफ्तार : बीजेपी की मुश्किल बढ़ी, कांग्रेस खेमे में जश्न

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 11 Nov 2018 9:24 AM GMT

घोटालेबाज रेड्डी गिरफ्तार : बीजेपी की मुश्किल बढ़ी, कांग्रेस खेमे में जश्न
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

बेंगलुरु : पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। बीजेपी और कांग्रेस के सभी बड़े नेता इनमें जीत के लिए पसीना बहा रहे हैं। राजस्थान को छोड़ जहां कांग्रेस मुकाबले में बने रहने के लिए मुद्दे तलाश रही हैं। वहीँ आज उसके पंजे में एक मुद्दा आ फंसा है।

यह भी पढ़ें: सीबीआई विवाद: सीवीसी की जांच में आलोक वर्मा के खिलाफ नहीं मिला ठोस सबूत: सूत्र

ये मुद्दा कर्नाटक से आया है। दरअसल करीब 600 करोड़ पॉन्जी इन्वेस्टमेंट स्कैम में आरोपों का सामना कर रहे बीजेपी के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री जनार्दन रेड्डी को सेंट्रल क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। रेड्डी पर मनी लॉन्डरिंग और मुख्य आरोपी के साथ गैर कानूनी लेन-देन में सहायता करने का आरोप है। इस मामले में महफूज अली खान को भी गिरफ्तार किया गया है।

यह भी पढ़ें: बेंगलुरु के त्यागराज नगर में निर्माणाधीन इमारत गिरी, कई के दबे होने की आशंका

आपको बता दें, क्राइम ब्रांच पहले से ही रेड्डी को गिरफ्तार करने की सोच रही थी। उसे सिर्फ पुख्ता सबूतों की तलाश थी। जैसे ही सबूत और गवाह ने बयान दिए रेड्डी की गिरफ्तार हो गए। अब रेड्डी को मैजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाएगा। पैसे वसूल कर इन्वेस्टर्स को दिए जाएंगे।

यह भी पढ़ें: रघुराम राजन बोले देश की अर्थव्यवस्था रफ्तार के सामने तीन बड़ी चुनौतियां

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story