×

भड़की माया : सत्ता की भूख हवस में बदल गई है, लोकतंत्र की हत्या कर रही बीजेपी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 29 July 2017 11:22 AM GMT

भड़की माया : सत्ता की भूख हवस में बदल गई है, लोकतंत्र की हत्या कर रही बीजेपी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: बीएसपी के एमएलसी ठाकुर जयवीर सिंह के इस्तीफे के बाद सुप्रीमो मायावती का गुस्सा भड़क उठा है।

माया ने कहा बीजेपी की सत्ता की भूख अब बुरी हवस में बदलती जा रही है, जिसके लिये सत्ता व सरकारी मशीनरी का हर प्रकार से दुरूपयोग अति-निन्दनीय व देश के लोकतंत्र के लिये लगातार ख़तरा बना हुआ है। माणिपुर, गोवा के बाद बिहार और फिर गुजरात के बाद अब उत्तर प्रदेश का ताजा राजनीतिक घटनाक्रम इस बात का प्रमाण है, कि मोदी सरकार ने लोकतंत्र का भविष्य खतरे में डाल दिया है।

ये भी देखें:शिवपाल की सलाह, अखिलेश अभी भी मुलायम को सौंप दें पार्टी तो बेहतर..वर्ना

उन्होंने कहा प्रदेश में गैर-बीजेपी विधायकों आदि को सरकारी शोषण व आतंक का मुकाबला करना चाहिये था, ना कि बीजेपी एण्ड कंपनी के सामने हथियार डालना चाहिये।

पूर्व सीएम ने कहा बीजेपी गुजरात में सरकार का ऐसा घोर दुरुपयोग कर रही है कि विधायकों को अपना राज्य छोड़कर सुरक्षित जगह जाने को मजबूर होना पड़ रहा है, और कोई भी संवैधानिक संस्था अपनी भूमिका को निभाने में असमर्थ सी नजर आ रही है।

मायावती ने कहा वास्तव में माणिपुर व गोवा में लोकतंत्र की हत्या करके वहाँ सरकार बनाने के बाद बिहार, गुजरात व अब उत्तर प्रदेश में भी शुरु हो गया है, वह सब प्रतिपक्ष के खिलाफ सरकारी मशीनरी जैसे सीबीआई, इनकम टैक्स, ईडी व पुलिस आदि के दुरूपयोग का ही परिणाम है। क्योंकि बीजेपी ने अपनी गलत नीतियों, कार्यों व भ्रष्टाचार आदि पर से लोगों का ध्यान बाँटने के लिये प्रतिपक्षी नेताओं को भ्रष्ट साबित करने का खुला अभियान चलाया हुआ है।

ये भी देखें:शाह का डबल पॉलिटिकल अटैक: बबुआ के बाद अब बुआ को झटका, MLC जयवीर का इस्तीफा

उन्होंने कहा पश्चिम बंगाल व उड़ीसा की सरकारें भी बीजेपी के सरकारी आतंक से पीड़ित हैं। लेकिन प्रतिपक्षी नेताओं को बीजेपी सरकार के आगे घुटने टेकने के बजाय बीजेपी सरकार के आतंक से हर प्रकार से मुकाबला करना चाहिये तथा उनके आगे हथियार कतई नहीं डालना चाहिये।

बसपा सुप्रीमो ने कहा ऐसा करके ही बीजेपी सरकार की विद्वेषपूर्ण, अहंकारी, दमनकारी व तानाशाही रवैये वाली कार्रवाईयों को रोका जा सकता है। उनके आगे घुटने टेकने से उनकी हिम्मत और भी ज्यादा बढ़ती चली जायेगी, क्योंकि उनके मुँह में अब खून लग चुका है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story