×

मन की बात : पीएम मोदी बोले- जज्बे और साहस के बल पर केरल फिर से उठ खड़ा होगा

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 26 Aug 2018 6:11 AM GMT

मन की बात : पीएम मोदी बोले- जज्बे और साहस के बल पर केरल फिर से उठ खड़ा होगा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 47 वीं बार रेडियो पर कार्यक्रम 'मन की बात' में देशवासियों को सम्बोधित किया। उन्होंने सबसे पहले रक्षाबंधन पर देशवासियों को शुभकामनाएं दी। अटल बिहारी वाजपेयी के देशहित में लिए गये फैसले को याद किया। दुष्कर्म के दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई के लिए संसद में कानून लाने की बात कही। एशियन गेम्स में पदक विजेता भारतीय खिलाड़ियों को बधाई दी। साथ ही केरल में बाढ़ से मची तबाही पर खेद व्यक्त करते हुए उन्हें हर सम्भव मदद का भरोसा दिया।

रक्षाबंधन पर दी बधाई

पीएम मोदी ने कहा कि मेरे प्यारे देशवासियों! नमस्कार। आज पूरा देश रक्षाबंधन का त्योहार मना रहा है। सभी देशवासियों को इस पावन पर्व की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। अभी कुछ ही दिन बाद जन्माष्टमी का पर्व भी आने वाला है। पूरा वातावरण हाथी, घोड़ा, पालकी – जय कन्हैयालाल की, गोविन्दा-गोविन्दा की जयघोष से गूंजने वाला है। सभी देशवासियों को रक्षाबन्धन एवं जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं।

उन्होंने कहा कि हमारे देश के इतिहास में अनेक ऐसी कहानियां हैं, जिनमें एक रक्षा सूत्र ने दो अलग-अलग राज्यों या धर्मों से जुड़े लोगों को विश्वास की डोर से जोड़ दिया था। संस्कृत भाषा के जरिए किसी भी सूक्ष्म से सूक्ष्म भाव या विषय को सटीकता से बयां किया जा सकता है।

वेदों में ग्लोबल वार्मिंग से निपटने का उल्लेख

पीएम मोदी ने कहा कि हर भाषा का अपना माहात्म्य होता है। भारत इस बात का गर्व करता है कि तमिल भाषा विश्व की सबसे पुरानी भाषा है और हम सभी भारतीय इस बात पर भी गर्व करते हैं कि वेदकाल से वर्तमान तक संस्कृत भाषा ने भी ज्ञान के प्रचार-प्रसार में बड़ी भूमिका निभायी है। उन्होंने कहा कि ग्लोबल वार्मिंग से निपटने का उल्लेख वेदों में है।

शिक्षक दिवस की दी शुभकामनाएं

पीएम मोदी ने कहा कि जैसे जीवन में गुरु का महत्व समझाने के लिए कहा गया है- कोई गुरु अपने शिष्य को एक भी अक्षर का ज्ञान देता है तो पूरी पृथ्वी में ऐसी कोई वस्तु या धन नहीं,जिससे शिष्य अपने गुरु का वह ऋण उतार सके। मैं देश के शिक्षकों को आने वाले शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं देता हूं।

केरल बाढ़ पर हर संभव मदद का भरोसा

पीएम मोदी ने कहा कि मेरे प्यारे देशवासियो! कठिन परिश्रम करने वाले यह हमारे किसानों के लिए मानसून नयी उम्मीदें लेकर आता है। भीषण गर्मी से झुलसते पेड़-पौधे, सूखे जलाशयों को राहत देता है लेकिन कभी-कभी यह अतिवृष्टि और विनाशकारी बाढ़ भी लाता है। केरल में भीषण बाढ़ आयी है। इस दुख की घड़ी में पूरा देश केरल के साथ खड़ा है। उन्होंने कहा कि आपदाएं अपने पीछे जिस प्रकार की बर्बादी छोड़ जाती हैं, वह दुर्भाग्यपूर्ण हैं लेकिन आपदाओं के समय मानवता के भी दर्शन हमें देखने को मिलते हैं। कच्छ से कामरूप और कश्मीर से कन्याकुमारी तक हर कोई अपने-अपने स्तर पर कुछ-न-कुछ कर रहा है। जज्बे और साहस के बल पर केरल फिर से उठ खड़ा होगा।

अटल जी को किया याद

इस बार देश के अलग-अलग कोने से लोगों ने नरेंद्र मोदी एप पर मन की बात कार्यक्रम में अटल बिहारी वाजपेयी के विषय पर बोलने के लिए कहा। पीएम मोदी ने कहा, '16 अगस्त को जैसे ही देश और दुनिया ने अटल जी के निधन का समाचार सुना, हर कोई शोक में डूब गया। एक ऐसे राष्ट्र नेता, जिन्होंने 14 साल पहले प्रधानमंत्री पद छोड़ दिया था।'

तील तलाक पर भी बोले पीएम

महिला सुरक्षा की बात करते हुए पीएम मोदी ने बताया कि दुष्कर्म के दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई के लिए संसद में कानून लाया गया। मध्य प्रदेश के मंदसौर में अदालत ने बहुत कम वक्त में दोषी को फांसी की सजा सुनाई। ऐसी घटनाओं का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने आगे तीन तलाक से संबंधित बिल का भी जिक्र किया।

उन्होंने कहा कि यह बिल लोकसभा में पास हो गया है, अभी राज्यसभा से पास होना है पीएम ने कहा, 'मैं मुस्लिम महिलाओं को विश्वास दिलाता हूं कि पूरा देश उन्हें न्याय दिलाने के लिए खड़ा है'

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story