×

ओवैसी- किसी को देशभक्ति के लिए सिनेमा हॉल में खड़े होने की जरूरत नहीं

aman

amanBy aman

Published on 24 Oct 2017 9:43 AM GMT

ओवैसी- किसी को देशभक्ति के लिए सिनेमा हॉल में खड़े होने की जरूरत नहीं
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: आए दिन अपने विवादित बोल से सुर्खियों में रहने वाले ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने सुप्रीम कोर्ट के सिनेमा हॉल में राष्ट्रगान के फैसले का स्वागत किया है। ओवैसी ने कहा, कि 'सिनेमा हॉल में राष्ट्रगान के वक्त लोगों को खड़े होने के लिए मजबूर नहीं किए जाने के फैसले का मैं स्वागत करता हूं।'

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है, कि सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में सभी पक्षों को ध्यान में रखा है। उन्होंने कहा, 'कोई भी व्यक्ति मनोरंजन के मकसद से सिनेमा हॉल जाता है। ऐसे में किसी शख्स को राष्ट्रगान के वक्त जबरन खड़ा करना या इसके लिए किसी को प्रताड़ित करना सही बात नहीं है। अगर कोई विशेष अवसर हो जैसे स्वतंत्रता दिवस या गणतंत्र दिवस तो लोग स्वेच्छा से ही राष्ट्रगान के वक्त खड़े हो जाते हैं।'

एआईएमआईएम प्रमुख ओवैसी ने कहा, 'किसी को अपनी देशभक्ति के लिए सिनेमा हॉल में खड़े होने की जरूरत नहीं है। कौन कितना देशभक्त है, इसका पता इससे बिल्कुल भी नहीं लग सकता।'



aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story