श्रीनगर : चोटी काटने के चलते विरोध प्रदर्शन, लगाया गया प्रतिबंध

Published by October 13, 2017 | 9:55 am
police,rescue of culprits, activist, Srinagar, ,Srinagar, a strike, Joint Resistance Leadership , protest, braid-chopping, Kashmir, Schools, colleges,

श्रीनगर: जम्मू एवं कश्मीर प्रशासन ने अलगाववादियों द्वारा आहूत विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर प्रतिबंध लगाया है। अलगाववादियों ने राज्य में चोटी काटने की घटनाओं के विरोध में विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया है।

पुलिस ने बताया कि खानयार, रैनवाड़ी, नौहट्टा, एम.आर.गंज, सफा कडाल, मैसूमा और क्रालखुद में प्रतिबंध लगाया गया है।

यह भी पढ़ें: कश्मीर : आतंकवादियों की मदद के आरोप में 2 पुलिसकर्मी गिरफ्तार

कश्मीर के विभागीय आयुक्त बशीर खान ने शुक्रवार को घाटी में सभी स्कूलों और कॉलेजों को बंद करने का आदेश दिया।

कश्मीर विश्वविद्यालय में लगातार दूसरे दिन भी पढ़ाई नहीं होगी।

अलगाववादियों ने जुमे की नमाज के बाद विरोध प्रदर्शनों का आह्वान किया है।

यह भी पढ़ें: सवाल देख लें : बिहार में नया कारनामा, कश्मीर को बताया ‘अलग देश’

पुलिस अधिकारी ने बताया कि पिछले महीने के दौरान घाटी के विभिन्न भागों में चोटी काटने के लगभग 100 मामले सामने आए हैं।

चोटी काटने की घटनाओं के संदेह में गांवों और कस्बों में भीड़ द्वारा कई निर्दोष लोगों को पीटा गया है।

पुलिस अब तक इन घटनाओं में शामिल किसी भी व्यक्ति को गिरफ्तार करने में कामयाब नहीं हुई है।

आईएएनएस