×

राजस्थान इलेक्शन : सीएम इन वेटिंग अशोक और सचिन लड़ेंगे चुनाव

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 14 Nov 2018 9:08 AM GMT

राजस्थान इलेक्शन : सीएम इन वेटिंग अशोक और सचिन लड़ेंगे चुनाव
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

जयपुर : राजस्थान में कांग्रेस ने बीजेपी को कड़ी टक्कर देने का मन बना लिया है। इसीलिए इस विधानसभा चुनाव में सचिन पायलट और अशोक गहलोत, दोनों ही चुनाव लड़ेंगे। कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत ने ये घोषणा की है।

ये भी देखें :राजस्थान चुनाव: ये लगा जोर का झटका, बीजेपी सांसद हरीश मीणा कांग्रेस में शामिल

ये भी देखें :राजस्थान इलेक्शन : बीजेपी MLA ने कहा, मुस्लिम होने की वजह से नहीं मिला टिकट

ये भी देखें :इलेक्शन 2018 : राजस्थान में टिकट कटा तो मंत्री ने दिया पार्टी से इस्तीफा

ये भी देखें :छत्तीसगढ़: नक्सलियों ने किया विस्फोट, बीएसएफ के चार जवान समेत 6 लोग घायल

ये भी देखें :सिंगापुर फिनटेक फेस्टिवल में मोदी बोले- भारतीय युवाओं ने दुनिया को अपनी तकनीकी शक्ति दिखाई है

आपको बता दें, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सचिन पायलट को राजस्थान कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया था। सचिन को राहुल का करीबी माना जाता है जबकि पूर्व सीएम अशोक गहलोत सोनिया गांधी के करीबी है। सूत्रों के मुताबिक सोनिया ने दोनों नेताओं को चुनावी समर में उतरने की सलाह दी थी। ताकि बीजेपी और सीएम वसुंधरा राजे को घेरा जा सके। इसके बाद आज अशोक ने स्वयं अपने और सचिन के चुनाव लड़ने पर मुहर लगाई। लेकिन अभी ये तय नहीं है कि ये दोनों किस सीट से चुनाव लड़ेंगे। गहलोत तो सरदारपुरा सीट से चुनाव लड़ते रहे हैं। लेकिन इस बार वो कहीं और से लड़ने का मन बना रहे हैं जबकि सचिन लोकसभा चुनाव लड़ते रहे हैं।

फिलहाल आप ये जान लीजिए अभीतक कांग्रेस ने अपने उम्मीदवार तय नहीं किए हैं। कांग्रेस नेता रामेश्वर डूडी अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच सीटों को लेकर सहमति नहीं बन सकी है। जबकि राजस्थान में 200 विधानसभा सीटों के लिए 7 दिसंबर को मतदान होना है और 11 दिसंबर को वोटों की गिनती की जाएगी।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story