प्रणब दा के भाषण में महात्मा गांधी की हत्या का जिक्र नहीं, येचुरी नाराज हैं

नई दिल्ली : मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने शुक्रवार को कहा कि उन्हें यह बात बहुत खली कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने आरएसएस मुख्यालय में गुरुवार को दिए अपने भाषण में महात्मा गांधी की हत्या का कोई जिक्र नहीं किया। उन्होंने मीडिया से कहा कि मुखर्जी ने बहुलवाद और बहु-आस्था पर जो कुछ बोला, वे सब बातें लोग भूल जाएंगे, लोगों की स्मृति में बस यही रहेगा कि वह आरएसएस मुख्यालय गए थे।

ये भी देखें :मोदी की हत्या की नक्सली योजना खोखली धमकी : कह रहे राजनाथ

येचुरी ने कहा, “प्रणब दा की बेटी ने बिल्कुल सही कहा है। दृश्य याद रहेंगे, भाषण भुला दिए जाएंगे।”

माकपा के नेता ने यह भी कहा कि आजादी के आंदोलन में आरएसएस की कोई भूमिका नहीं थी।

ये भी देखें :प्रणब दा ने आरएसएस के घर में बड़े कायदे की बात कहीं, नोटिस किया क्या

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि यदि उन्हें निमंत्रण आया होता तो वह आरएसएस मुख्यालय जाना कभी स्वीकार नहीं करते।