इस त्योहार खुद को बनाएं और भी खूबसूरत

इस त्योहार खुद को बनाएं और भी खूबसूरत

नई दिल्ली : दिवाली या किसी भी खास मौके में लिए सुंदर दिखने के लिए केवल चेहरे को सुंदर बनाना ही काफी नहीं होता बल्कि अपने सम्पूर्ण शरीर की खूबसूरती पर काम करने कि भी जरूरत होती है। अगर आपने केवल अपने चेहरे के लिए ही सारी तैयारियां की है पर बालों का ध्यान नहीं रखा तो आपकी सारी मेहनत बेकार हो सकती है। इसीलिए चेहरे के साथ हाथ पैरों की स्किन, बाल और कपड़ों का भी खास ध्यान रखना जरूरी है। जानते हैं स्किन के खास उपाय।
क्लिंजिंग के द्वारा स्किन को साफ कर आप स्किन को सांस लेने के लिए प्रोत्साहित कर सकती हैं। इसमें मृत त्वचा निकाल जाती है और चेहरे की रंगत साफ और उजली दिखाई देती है। दमकती त्वचा के लिए चहरे की क्लीनिंग या नियमित सफाई बहुत आवश्यक है। आप इसे घर में ही कर सकती हैं। दिन में दो बार चेहरे को अच्छी तरह साफ करना चाहिए इसके लिए किसी सौम्य और मॉश्चराइजरयुक्त फेस वॉश का प्रयोग करना चाहिए। इसके अलावा आप दिन में कई बार साफ पानी से चहरे को साफ कर सकते हैं। ऐसा करने से चेहरे के पोरों या रोम छिद्रों की गहराई से सफाई हो जाती है जो पिंपल आदि समस्या को दूर रखते हैं

यह भी पढ़ें : इस दिवाली दिखें सबसे अलग

खूबसूरत दिखने के लिए त्वचा की केवल क्लिंजिंग ही काफी नहीं होती बल्कि उसकी सही देखभाल क्लिंजिंग के बाद नमी प्रदान करने से होती है। जब भी आप अपने चेहरे की क्लिंजिंग करें तो उसके बात त्वचा को सुरक्षित और मुलायम बनाए रखने के लिए उसे किसी अच्छी क्रीम आदि के द्वारा नमी जरूर दें। अपनी स्किन टाइप के हिसाब से आपको मॉश्चराइजर का प्रयोग करना चाहिए। इससे त्वचा पर बाहरी प्रयोग की वजह से जा चुकी नमी वापस आ जाती है और त्वचा नर्म मुलायम बनी रहती है।

हमारे कोमल होंठ भी त्वचा का ही एक हिस्सा हैं सो इनकी देखभाल में भी कोई कमी नहीं रहनी चाहिए। दिवाली के साथ साथ सर्दियाँ भी शुरू हो जाती हैं, इसीलिए इस मौसम में शुष्क हवाओं से होंठो की नाजुक त्वचा को बचाएं। बाहर से आने के बाद चेहरा साफ कर चेहरे के साथ होंठों पर भी मॉश्चराइर का प्रयोग करें। इसके अलावा आप किसी अच्छी कंपनी के लिप बाम का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। अगर आपको होंठों को प्राकृतिक तरीके से खूबसूरत बनाए रखना है तो रोज रात को सोने के पहले अपनी नाभि में शुद्ध घी लगा सकती हैं इससे होंठ कोमल और गुलाबी होते हैं। इसके साथ ही होंठों पर सोने के पहले घर में बने मक्खन को अच्छी तरह लगा लें और रातभर के लिए ऐसे ही छोड़ दें।

यह भी पढ़ें : बिना आयरन के कपड़े से सिकुड़न होगी दूर, अपनाएं ये आसान टिप्स

दिवाली आते आते हवा में ठंडक घुल जाती है। ये हवाएँ त्वचा को बहुत नुकसान पहुंचाती हैं, इसकी वजह से त्वचा सूखी और फटी हुई सी नजर आने लगती है। इसके लिए त्वचा को पर्याप्त नमी देना चाहिए। त्वचा की प्राकृतिक नमी को बरकरार रखने के लिए ज्यादा केमिकलयुक्त उत्पादों के प्रयोग से बचें और त्वचा को बाहर से भी पोषण देते रहें।
त्वचा की पोर में धूल या गंदगी के जमाव से मुँहासे होने लगते हैं। इन पोर के बंद हो जाने से तेल ग्रंथियां अत्यधिक तेल का स्राव करने लगती हैं। साबुन के इस्तेमाल से तेल का स्राव कम नहीं होता। ज्यादा क्रीम आदि का इस्तेमाल करने से एक्ने आदि की समस्या और भी ज्यादा बढ़ जाती है। स्क्रबिंग के बाद भी त्वचा पर खुजली जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है इसके लिए बेंजोइल पैराऑक्साइड युक्त क्रीम या लोशन का इस्तेमाल करना बेहतर होता है। इसके लिए यह सलाह दी जाती है की केवल प्रभावित हिस्से में ही इस क्रीम या लोशन को लगाना चाहिए ताकि भविष्य में मुंहासों या पिंपल आदि की समस्या जन्म ना ले सके। इसके अलावा त्वचा पर घरेलू उपायों से भी एक्ने को दूर किया जा सकता है। ये प्राकृतिक उपाय त्वचा के लिए ज्यादा सुरक्षित होते हैं।