×

Cinnamon Benefits and Uses: सूजन से है परेशान तो करें दालचीनी का सेवन, औषिधीय गुणों से है भरपूर

Cinnamon Benefits and Uses: दालचीनी में मौजूद प्रचुर मात्रा में पोषक तत्व आपके स्वास्थ्य को कई प्रकार के लाभ प्रदान करते हैं। शोध के अनुसार दालचीनी का सेवन आपको कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं व उनके लक्षणों को दूर करने में सहायक होता है।

Preeti Mishra
Written By Preeti Mishra
Updated on: 2 July 2022 4:04 PM GMT
cinnamon benefits
X

cinnamon benefits (Image Credit: Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Cinnamon Benefits and Uses: भारतीय रसोई को औषिधियों का खज़ाना माना जाता है। बता दें कि दालचीनी विभिन्न गुणों से भरपूर एक विशेष मसाला है जिसे एक पेड़ की अंदरूनी छाल से निकाला जाता है, इसलिए इसे प्राचीन काल से ही जड़ी-बूटियों की श्रेणी में भी रखा जाता है। दालचीनी / सिनेमन का वैज्ञानिक नाम सिनामोमम वेरम है।

उल्लेखनीय है कि दालचीनी में मौजूद स्वास्थ्यवर्धक गुण आपको कई तरह के स्वास्थ्य रोगों का इलाज करने में मदद करने के साथ उन रोगों को दूर करने में भी सहायक होते हैं। गौरतलब है कि आयुर्वेद व सिद्ध जैसी प्राचीन चिकित्सा प्रणालियों में कई स्वास्थ्य रोगों का इलाज करने के लिए दालचीनी का इस्तेमाल (dalchini ke fayde in hindi) जरूर किया जाता है।

दालचीनी के हैं अनगिनत फायदे (Benefits of Cinnamon):

दालचीनी में मौजूद प्रचुर मात्रा में पोषक तत्व आपके स्वास्थ्य को कई प्रकार के लाभ प्रदान करते हैं। शोध के अनुसार दालचीनी का सेवन आपको कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं व उनके लक्षणों को दूर करने में सहायक होता है। तो आइये जानते हैं दालचीनी के फायदों को :

- दालचीनी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट त्वचा व शरीर के अंदरूनी हिस्सों में होने वाली सूजन को कम करने में सहायक होते हैं।

- दालचीनी का प्रयोग ब्लड शुगर को कम करने में काफी प्रभावी माना गया है। बता दें कि दालचीनी डाइजेस्टिव एंजाइमों में कुछ जरूरी बदलाव करने के कारण कार्बोहाइड्रेट्स की अवशोषण प्रक्रिया कम हो जाती है जिससे ब्लड शुगर के स्तर को कम करने में मदद मिलती है।

- बता दें कि दालचीनी में दो ऐसे यौगिक मौजूद होते हैं, जो आपके मस्तिष्क में हानिकारक प्रोटीन बनने से रोकते हैं। गौरतलब है कि यह हानिकारक प्रोटीन मस्तिष्क व तंत्रिका तंत्र की कोशिकाओं को नष्ट कर सकता है जिसके कारण अल्जाइमर और पार्किंसन रोग होने का खतरा काफी ज्यादा बढ़ सकता है।

- दालचीनी के सेवन से ट्यूमर में रक्त वाहिकाएं बढ़ने से रोकता है जिसके कारण कैंसर बढ़ने में दिक्कत होने लगती है। इतना ही नहीं दालचीनी में मौजूद कुछ तत्व कैंसर कोशिकाओं के लिए एक विषाक्त पदार्थ के रूप में भी काम करते हैं।

- बता दें कि दालचीनी में सिनेमालडेहाइड (Cinnamaldehyde) नाम का एक सक्रिय घटक आपके श्वसन तंत्र में होने वाले फंगल संक्रमण को रोकने में सहायक होता है। इसके अलावा यह लिस्टेरिया और साल्मोनेला जैसे हानिकारक बैक्टीरिया को भी बढ़ने से रोकने में मददगार होता है।

अत्यधिक मात्रा में दालचीनी के सेवन से होते हैं कुछ शारीरिक नुकसान (Side effects of Cinnamon)

दालचीनी का सेवन हमेशा सीमित मात्रा में करना हमेशा फायदेमंद होता है। लेकिन अत्यधिक मात्रा में इसका सेवन करने से कुछ लोगों को इससे एलर्जी की भी समस्या हो सकती है। लेकिन अगर आप दालचीनी का सेवन पहली बार कर रहे हैं, तो शुरुआत में बेहद कम मात्रा में ही इसका सेवन करना फायदेमंद होता है। परन्तु इसके सेवन से अगर एलर्जी या कोई भी अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्या होती है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। याद रखें अत्यधिक मात्रा में इसका सेवन करना स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव डालता हैं। गौरतलब है कि दालचीनी के अधिक सेवन के कारण शरीर में विषाक्त प्रभाव हो सकता हैं।

कैसे करें दालचीनी का उपयोग (How to use Cinnamon):

स्वाद और खुशबु के लिए दालचीनी का इस्तेमाल विभिन्न प्रकार के खाद्य व पेय पदार्थों में किया जाता है। इतना ही नहीं मार्केट में भी ऐसे कई अलग-अलग प्रकार के प्रोडक्ट मौजूद हैं जो दालचीनी से बने होते हैं। इसके साथ ही इसमें मौजूद औषधीय गुण के कारण आयुर्वेदिक व घरेलू उपचारों में भी इसका काफी इस्तेमाल किया जाता है।

दालचीनी का सेवन करने का क्या है सही तरीका -

- आप किसी भी खाद्य पदार्थों में दालचीनी का पाउडर डालकर उसे स्वादिष्ट और स्वास्थ्यवर्धक बना सकते हैं।

- एक कप गर्म पानी में आधा चम्मच दालचीनी का पाउडर उबालकर पीने से डायबिटीज कंट्रोल होने के साथ तेज़ी से वजन कम होता है।

- एक चम्मच शहद में आधा चम्मच दालचीनी पाउडर मिलाकर खाने से पेट सम्बन्धी सभी बीमारियां दूर होती हैं।

ध्यान रहें दालचीनी से जुड़े स्वास्थ्य लाभ पाने के लिए इसका प्रयोग हमेशा सीमित मात्रा में ही करें।

Rakesh Mishra

Rakesh Mishra

Next Story