थकान से बचने के लिए इन बातों का रखें ध्यान, सही डाइट लेना जरूरी

Published by seema Published: February 17, 2018 | 1:33 pm

थकान से बचने के लिए इन बातों का रखें ध्यान, सही डाइट लेना जरूरी

लखनऊ : अक्सर कुछ लोगों में देखने को मिलता है कि जरा सा काम करने पर ही उन्हें थकान सी महसूस होने लगती है। इस कारण ऐसे लोगों का मन काम में नहीं लगता है और वे काम से किनारा करने लगते हैं। फिर दूसरे लोग उन्हें आलसी आदि भी कहने लगते हैं। उनके आसली होने के भी कारण होते हैं जैसे थकान के साथ शरीर में दर्द रहना, सिर में दर्द व भारीपन, सांस लेने में तकलीफ, डिप्रेशन, तनाव, नींद न आना, चिड़चिड़ापन व कमजोरी आम बात होने लगती है। यहां जानते हैं कुछ बातों के बारे में जिनका ध्यान रखकर इन बातों से बचा जा सकता है।

कुछ लोग कहते हैं कि वे अच्छी डाइट लेते हैं, लेकिन फिर भी यह समस्या क्यों होती है। ऐसी बात कहने वालों को इस बात का ध्यान रखना होगा कि कहीं वे खाद्य पदार्थों में हानिकारक रसायन वाले फूड तो नहीं ले रहे हैं क्योंकि इससे लाभ पहुंचने की जगह बीमारी मिलती है। इस कारण भी शरीर में थकान होने लगती है। इसके साथ ही फास्ट फूड व जंकफूड को भी इसके लिए जिम्मेदार ठहराया जा सकता है। स्वस्थ भोजन की कमी आगे जाकर शरीर की कोशिकाओं को कमजोर बना देती है और काम करने की शक्ति कम हो जाती है। व्यायाम की कमी भी शरीर में सुस्ती लाती है और व्यक्ति थका-थका महसूस करता है। साथ ही ऐसे लोगों को कई बीमारियों का भी खतरा बढ़ जाता है।

यह भी पढ़ें : सुबह की बची हुई दाल से ऐसे बना सकते हैं टेस्टी लजीज पराठा

नियमित व्यायाम जरूरी
थकान मिटाने के लिए रोजाना आपको व्यायाम करना चाहिए। कुछ लोग बीमार होने के बाद ही डॉक्टर की सलाह पर एक्सरसाइज शुरू करते हैं, जो कि गलत है। हर व्यक्ति को रोजाना कम से कम 30 मिनट की एक्सरसाइज खुद को फिट रखने के लिए करनी चाहिए। इससे हमारे फेफड़े खुलते हैं और अच्छी मात्रा में ऑक्सीजन अंदर जाती है जिससे व्यक्ति खुद को उर्जावान महसूस करता है। नियमित व्यायाम करने से कई प्रकार की बीमारियों से बचाव होता है और आपके शरीर की इम्यूनिटी भी बढ़ती है।

साफ पानी और ताजी हवा जरूरी
थकान को मिटाने के लिए उचित खानपान, रहन-सहन, खुली हवा में लंबी सांस लेने के साथ ही साफ पानी भी पीना चाहिए। दूषित पानी और हवा से कई प्रकार की बीमारियां होती हैं। बेडरूम में ताजा हवा के आने का उचित प्रबंध हो, यह भी ध्यान रखना होगा। पानी को उबालकर पीना बेहतर होता है। अगर हो सके तो घर के आसपास अच्छे पेड़ लगाएं ताकि इससे आपके साथ दूसरों को भी अच्छी हवा मिल सके।

नियमित करें फल का सेवन
खाना समय पर,ताजा और संतुलित खाना चाहिए। शाम को खाना हल्का हो, सुबह के भोजन में छाछ दही का इस्तेमाल हो, इस बात का ध्यान रखना चाहिए। खट्टी, तली भुनी व मिर्च मसाले वाली चीजों से परहेज करना चाहिए। सॢदयों में सोते समय चार पांच मुनक्के सेंककर खाना चाहिए और गॢमयों में रात भर बीस पच्चीस किशमिश पानी में भिगोकर सुबह निहारमुंह खाना चाहिए।

शहद का सेवन भी थकावट दूर करके ताकत लाता है।
ताजा फलों का रस भी अच्छा है। सेब, अंगूर व आम का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करना चाहिए। कोशिश करें कि रोजाना कम से कम एक फ्रेश फल जरूर खाएं ताकि आप थकान को हमेशा के लिए बॉय-बॉय कह सकें।