×

Hair Loss and Onion: प्याज़ के तेल के इस्तेमाल से दूर होगी बालों के झड़ने और गंजेपन की समस्या

Hair Loss and Onion: आमतौर प्याज का इस्तेमाल रोजमर्रा की जिंदगी में आसानी से होता है। उल्लेखनीय है कि प्याज का इस्तेमाल भोजन से लेकर दवाओं तक के रूप में भी किया जाता हैं।

Preeti Mishra
Updated on: 22 Jun 2022 12:28 PM GMT
प्याज़ के तेल के इस्तेमाल से दूर होगी बालों के झड़ने और गंजेपन की समस्या
X

Hair loss and Onion (Image Credit: Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Hair Loss and Onion: शायद ही ऐसा कोई व्यक्ति होगा जो अपने सिर पर अच्छे और सूंदर बालों की ख्वाहिश ना रखता हो। लेकिन अकसर ये देखा गया है कि लोग अपने झरते बालों से बहुत ज्यादा परेशान होते हैं। चाहे वो महिला हो या पुरुष। लेकिन आपको ये जानकार हैरानी होगी कि महिलाओं की तुलना में पुरुषों के बाल ज्यादा तेज़ी से गिरते हैं। जिस कारण कई बार वे गंजे भी बन जाते हैं। लेकिन ऐसे में ये खबर आपको राहत दे सकती है कि प्याज का तेल या प्याज के बीजों यानि कि कलौंजी के तेल बालों को ग्रोथ बढ़ाने के साथ हेयर फॉल रोकने के लिए कमाल की दवा है।

बता दें कि ये काफी प्रभावशाली आयुर्वेदिक दवा है जो, बालों को घना और हेल्दी बनाने में मददगार होती है। इसके लिए आपको नियमित रूप से इस तेल को बालों में लगाने के साथ पोषक तत्वों से भरपूर डाइट भी लेना बेहद जरूरी है। जो आपके बालों को बाहर से पोषण देने के साथ ही शरीर को अंदरूनी रूप से भी ताकत प्रदान करता है।

आमतौर प्याज का इस्तेमाल रोजमर्रा की जिंदगी में आसानी से होता है। उल्लेखनीय है कि प्याज का इस्तेमाल भोजन से लेकर दवाओं तक के रूप में भी किया जाता हैं।

गौरतलब है कि बालों का झड़ना एक अकेली समस्या नहीं होई बल्कि ये अपने साथ अन्य समस्याओं को भी लाता जिसमें डैंड्रफ, गंजापन, बालों का पतला होना और सफेद होना भी शामिल है। लेकिन प्याज का तेल बालों को फिर से उगाने और बालों के झड़ने को रोकने के लिए एक परफेक्ट उपाय माना गया है। स्वस्थ और घने बाल पाने के लिए इस तेल का इस्तेमाल बेहद प्रभावशाली है।

बता दें कि प्याज का रस में मौजूद भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट आपके बालों के विकास को प्रभावी ढंग से बढ़ाने के साथ बालों के झड़ने से रोकने में भी सहायक होता है।

इतना ही नहीं बालों के विकास को बढ़ावा देने के लिए इस तेल को कमाल का जादुई तेल माना जाता है। इसके अलावा गंजेपन को रोकने और उसका उपाय करने के लिए भी नियमित रूप से प्याज के तेल का सेवन प्रभावशाली है।

उल्लेखनीय है कि सल्फर से भरपूर प्याज का तेल आपके बालों को टूटने, दोमुंहे होने और पतले होने से भी बचाता है। प्याज में मौजूद अन्य पोषक तत्व बालों केऑक्सीकरण को रोकते हैं। इतना ही नहीं यह तेल बालों के नियमित पीएच को भी बनाए रखता है जो समय से पहले सफेद होने से रोकने के साथ आपके बालों और स्कैल्प को अच्छी तरह से पोषण व् रक्त परिसंचरण में सुधार करता है।

तो आइये जानते हैं प्याज़ के तेल के अनगिनत फायदे:

- प्याज का तेल में मौजूद ढेर सारे एंटी ऑक्सीडेंट्स आपके बालों में तेज़ी से ग्रोथ लाता है। बता दें कि ये एंंटी ऑक्सीडेंट्स मिलकर कई एंजाइम को एक्टिवेट या सक्रिय कर देते हैं जिसके कारण बालों का झड़ना रुक जाता हैं।

- नियमित रूप से प्याज का तेल लगाने से बालों के फिर से उगने की रफ्तार बढ़ने के साथ नियमित रूप से इस्तेमाल गंजेपन का भी उपचार माना जाता है। इतना ही नहीं ये गंजेपन की समस्या को बढ़ने से रोकने में भी सहायक होता है।

- प्याज के तेल ( onion oil in hindi ) में मौजूद भरपूर मात्रा में सल्फर आपके बालों के टूटने, दोमुंहे होने और पतले होने की समस्या को भी दूर करता है। प्याज में पाए जाने वाले अन्य पोषक तत्व बालों में होने वाली ऑक्सीकरण की प्रक्रिया को रोकने के साथ बालों के प्राकृतिक पीएच लेवल को मेंटेन करता है जिसके कारण समय से पहले बालों के सफेद होने की प्रक्रिया को रोकने में भी सहायता मिलती है।

- नियमित रूप से प्याज का तेल बालों में लगाने पर स्कैल्प को काफी पोषण प्राप्त होता है। बता दें कि ये न सिर्फ आपके ब्ल्ड सर्कुलेशन को सुधारता है बल्कि आपके बालों को घना और मजबूत बनाने में भी सहायता करता है। गौरतलब है कि रक्त संचार का बालों की हेल्थ के साथ सीधा संबंध होता है।

- अमूमन कई बार कुछ लोगों को सिर में बैक्टीरिया के कारण होने वाले इंफेक्शन से बालों के झड़ने की समस्या शुरू हो जाती है। ऐसे लोगों को नियमित रूप प्याज का तेल लगाने स बालों में जीवाणु संक्रमण से बचाव होने के साथ डैंड्रफ जैसी समस्याओं से बचाव होता है।

- प्याज के तेल का उपयोग (onion oil use in hindi)हेयर कंडीशनर की तरह करने से स्कैल्प को पोषण मिलने के साथ ही बाल भी मुलायम बनते है। लेकिन ध्यान रहे इसका इस्तेमाल हमेशा शैंपू करने से पहले ही करना चाहिए। ये एक नेचुरल कंडीशनर की तरह काम करता है। जिससे बालों में ड्राईनेस की समस्या कम होने के साथ ही बालों के उलझकर टूटने की समस्या भी खत्म हो जाती है।

Rakesh Mishra

Rakesh Mishra

Next Story