Top

मानसून टिप्स: ऐसे रखें आचार, नहीं होंगे खराब, हर मौसम में बढ़ाएगा स्वाद

बारिश का मौसम बेहद सुहाना और रोमांटिक  होता है, मगर इसके साथ ही यह मौसम कई सारी परेशानियां भी लाता है। इस मौसम में सबसे ज्‍यादा चुनौतीपूर्ण कार्य होता है खाने की चीजों को खराब होने से बचाना। उमस के कारण इस मौसम में हर जगह बैक्‍टीरिया होते हैं।

Suman

SumanBy Suman

Published on 22 July 2020 5:29 PM GMT

मानसून टिप्स: ऐसे रखें आचार, नहीं होंगे खराब, हर मौसम में बढ़ाएगा स्वाद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : बारिश का मौसम बेहद सुहाना और रोमांटिक होता है, मगर इसके साथ ही यह मौसम कई सारी परेशानियां भी लाता है। इस मौसम में सबसे ज्‍यादा चुनौतीपूर्ण कार्य होता है खाने की चीजों को खराब होने से बचाना। उमस के कारण इस मौसम में हर जगह बैक्‍टीरिया होते हैं। ऐसे में यदि खाने की चीजों को सही तरह से स्‍टोर न किया जाए या उन्‍हें टच करने और सही स्‍थान पर रखने में सावधानी न बरती जाए तो वह बहुत जल्‍दी खराब हो जाती हैं। खाने-पीने की सभी चीजों को सही तरह से स्‍टोर करना जरूरी होता है, मगर बारिश के मौसम में अगर अचार की देख-रेख सही तरह से न की जाए तो वह बहुत जल्‍दी खराब हो जाता है।

यह पढ़ें...बहुत डरावना है इस गांव का इतिहास, जानेंगे तो हो जाएंगे रोंगटे खड़े

हाथ करें साफ: बारिश के मौसम में अचार को खराब होने से बचाना है तो इस बात का ध्‍यान रखें कि जब भी अचार का जार टच करें तो पहले हाथों को साफ कर लें और अच्‍छी तरह से टॉवल से पोछ कर सुखा लें। अगर गीले हाथों से अचार को टच करेंगी तो वह खराब हो जाएगा। इतना ही नहीं, अचार को जार से निकालने के लिए हमेशा लकड़ी के चम्‍मच का इस्‍तेमाल करें। अचार निकालने से पहले चम्‍मच को अच्‍छी तरह से सूखे कपड़े से साफ कर लें, साथ ही इस बात का भी ध्‍यान रखें कि जिस चम्‍मच का इस्‍तेमाल आप आम का अचार निकालने के लिए कर रही हैं उसी चम्‍मच से दूसरा कोई अचार न निकालें। अगर आपको उसी चम्‍मच से दूसरा अचार निकालना ही है, तो पहले उस चम्‍मच को अच्छी तरह से साफ़ कर लें और उसके बाद ही अचार को निकालें। बारिश के मौसम में बर्तनों पर भी मॉइश्‍चर आ जाता है, इसलिए बेस्‍ट होगा कि आप हर 2-3 दिन में अचार की बर्नी या जार को साफ और सूखे कपड़े से पोछती रहें।

सही स्‍थान पर रखें : बारिश में घरों में सीलन आने की समस्‍या बढ़ती है। अगर घर में भी यह परेशानी आ रही है तो अचार को ऐसे स्‍थान पर रखने से बचें जहां सीलन हो। हमेशा अचार को रूम टेम्परेचर में रखें और ऐसी जगह रखें जहां कम रोशनी हो। आम, मिर्च, गाजर और नींबू का अचार छोड़ कर आप दूसरी तरह के अचार को फ्रिज के अंदर एयर टाइट जार में भर कर भी रख सकती हैं। जैसे कटहल, गोभी, मूली, बैगन आदि का अचार फ्रिज (फ्रिज में फूड स्टोर करने का सही तरीका जानें) में रखा जाए तो वह जल्‍दी खराब नहीं होता है। इसके साथ ही बारिश के मौसम में जब भी धूप निकले तो 1 से 2 घंटे के लिए अचार को धूप दिखा लें। धूप दिखाने के लिए अचार के जार या बर्नी के मुंह पर सूती कपड़ा बांधें और उसे धूप में रख दें। इससे आपके अचार में फफूंद लगने का डर भी खत्‍म हो जाएगा।

यह पढ़ें...कोरोना से जंग में बहुत काम आयेंगे ये मास्क-सैनिटाइजर, जानिए खासियत

सही बर्तन में रखें : बहुत सारे घरों में अचार को प्‍लास्टिक या स्‍टील के डिब्‍बे में रख दिया जाता है। मगर यह तरीका बिलकुल भी सही नहीं है, ऐसा करने से अचार में हवा लग सकती हैं। खासतौर पर बारिश के मौसम में अचार को जितना हवा और पानी से बचाएंगे उतनी ही उसकी शेल्‍फ लाइफ भी बढ़ेगी। अचार को हमेशा शीशे के जार या फिर चीनी मिट्टि के बने बर्तनों में रखें। बाजार में यह आपको आसानी से उपलब्‍ध हो जाएंगे। जाहिर है, चीनी मिट्टी के बर्तन एयर टाइट नहीं होते हैं, ऐसे में आप जिस चीनी मिट्टी के बर्तन में अचार रख रही हैं उसके मुंह पर सूती कपड़ा बांध दीजिए।

Suman

Suman

Next Story