×

दुश्मनों की खैर नहीं: भारत-अमेरिका की 2+2 बैठक, चीन का मुद्दा होगा शामिल

भारत और अमेरिका के बीच होने वाले 2+2 डायलॉग की बैठक में इस बार इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में शांति, रणनीतिक सहयोग, व्यापार और कनेक्टिविटी जैसे मुद्दे मुख्य शामिल हो सकते हैं।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 16 Oct 2020 2:03 PM GMT

दुश्मनों की खैर नहीं: भारत-अमेरिका की 2+2 बैठक, चीन का मुद्दा होगा शामिल
X
दुश्मनों की खैर नहीं: भारत-अमेरिका की 2+2 बैठक, चीन का मुद्दा होगा शामिल
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: मौजूदा समय में भारत-चीन के बीच वास्तविक रेखा पर तनाव जा रही है। इस बीच भारत और अमेरिका के बीच 2+2 डायलॉग की बैठक आगामी 26-27 अक्टूबर को हो सकती है। खबर के मुताबिक इसकी आधिकारिक घोषणा जल्द ही की जाएगी। इस बैठक में दोनों देशों के रक्षा और विदेश मंत्रियों के बीच बातचीत होगी। बता दें कि चीन के साथ चल रहे सीमा विवाद के मद्देनजर इस बैठक को बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

2+2 डायलॉग की बैठक में भारत और चीन का मुद्दा हो सकता है शामिल

भारत और अमेरिका के बीच होने वाले 2+2 डायलॉग की बैठक में इस बार इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में शांति, रणनीतिक सहयोग, व्यापार और कनेक्टिविटी जैसे मुद्दे मुख्य शामिल हो सकते हैं। बीते एक महीने के दौरान भारत और अमेरिका के विदेश मंत्री दो बार एक दूसरे के साथ मिल चुके हैं। अमेरिका और भारत दोनों ही इस वक्त चीन से अलग-अलग मुद्दों पर उलझे हुए हैं। ऐसे में बातचीत के केंद्र में चीन भी हो सकता है।

pm modi-donald trump

ये भी देखें: बिहार में जिन्ना का जिन्न: कांग्रेस ने इनको दिया टिकट, बीजेपी ने मचाया कोहराम

अमेरिका-भारत के बीच ‘टू प्लस टू’ के लिए अहम् है बैठक

गौरतलब है कि कुछ ही दिनों पहले अमेरिका के विदेश उपमंत्री स्टीफन बीगुन भी भारत की यात्रा कर चुके हैं। बीगुन ने अपनी भारत यात्रा में भारत-अमेरिका फोरम पर अहम बयान दिए और इस साल के आखिर में होने वाली अमेरिका-भारत ‘टू प्लस टू’ मंत्री स्तरीय वार्ता से पहले भारत सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की। सहयोग विस्तार की भी जरूरत बताई

member of QUAD

भारत,अमेरिका के साथ ऑस्ट्रेलिया और जापान (QUAD) के सदस्य हैं

बता दें कि स्टीफन की यात्रा के बाद अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा कि बीगुन ने भारत-अमेरिका फोरम में विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला के साथ विशेष रूप से एक स्वतंत्र और खुले हिंद-प्रशांत क्षेत्र में अमेरिका-भारत की साझेदारी के महत्व को रेखांकित किया। बीगुन ने चार देशों के संगठन (QUAD) सदस्य देशों के बीच सहयोग विस्तार की भी जरूरत बताई जिसमें भारत और अमेरिका के साथ ऑस्ट्रेलिया और जापान सदस्य हैं।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story