Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

बिहार में जिन्ना का जिन्न: कांग्रेस ने इनको दिया टिकट, बीजेपी ने मचाया कोहराम

मशकूर अहमद उस्मानी पर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का छात्रसंघ अध्यक्ष रहते हुए पाकिस्तान के फाउंडर मोहम्मद अली जिन्नाह की तस्वीर कमरे के अंदर लगाने का आरोप लगा था। जिन्नाह का महिमामंडन करने पर काफी हंगामा मचा था।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 16 Oct 2020 12:19 PM GMT

बिहार में जिन्ना का जिन्न: कांग्रेस ने इनको दिया टिकट, बीजेपी ने मचाया कोहराम
X
बिहार में जिन्ना का जिन्न: कांग्रेस ने इनको दिया टिकट, बीजेपी ने मचाया कोहराम
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पटना: बिहार में विधानसभा चुनाव की तैयारी में सभी पार्टियाँ जुट गई हैं। कांग्रेस ने अपने प्रत्याशियों की लिस्ट जारी कर दी है। कांग्रेस ने जाले विधानसभा सीट से मशकूर अहमद उस्मानी को टिकट दिया है, जिसका पार्टी के अंदर के नेताओं से लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) तक विरोध कर रही है। जेडीयू का कहना है कि मशकूर अहमद उस्मानी को टिकट दिए जाने पर कांग्रेस को सफाई देने की जरूरत है।

मशकूर अहमद उस्मानी मोहम्मद अली जिन्नाह के समर्थक हैं

बताया जा रहा है कि मशकूर अहमद उस्मानी पर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का छात्रसंघ अध्यक्ष रहते हुए पाकिस्तान के फाउंडर मोहम्मद अली जिन्नाह की तस्वीर कमरे के अंदर लगाने का आरोप लगा था। जिन्नाह का महिमामंडन करने पर काफी हंगामा मचा था। अब कांग्रेस ने जाले विधानसभा सीट से मशकूर अहमद उस्मानी को टिकट दिया है।

rishi mishra

ऋषि मिश्रा इस बार जाले विधानसभा से टिकट के दावेदार थे

उस्मानी को जाले विधानसभा से उम्मीदवार बनाने के लेकर अब कांग्रेस में भी बवाल मच गया है। जाले विधानसभा से पूर्व विधायक ऋषि मिश्रा ने उस्मानी को टिकट दिए जाने पर अपनी पार्टी से खफा हो गए हैं। ऋषि मिश्रा इस बार जाले विधानसभा से टिकट के दावेदार थे, मगर उस्मानी को टिकट दिए जाने के बाद से वह पार्टी से नाराज हैं। ऋषि मिश्रा ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा, “जाले से जिन्ना प्रेमी को टिकट दिए हो, बिहार की जनता पूछ रही है ई का किए हो।"

ये भी देखें: औरैया में ताबड़तोड़ एक्शन: 250 किलो अवैध पटाखे बरामद, गिरफ्तार हुए 3 बदमाश

उठ रहे हैं सवाल आखिर क्यों उन्होंने एक जिन्नावादी को टिकट दिया

ऋषि मिश्रा ने बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मदन मोहन झा पर भी निशाना साधते हुए सवाल उठाया कि आखिर क्यों उन्होंने एक जिन्नावादी को टिकट दिया? ऋषि मिश्रा ने कहा कि उस्मानी को छोड़कर कांग्रेस अगर किसी और कार्यकर्ता को जाने विधानसभा से अपना उम्मीदवार बना देती तो भी वह उसका समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि जिन्ना के नाम पर इस देश की जनता ने लालकृष्ण आडवाणी तक को माफ नहीं किया था तो फिर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा के मुंह से इस जिन्नावादी को वोट देने के लिए कह रहे हैं?

giriraj singh

बीजेपी ने उठाये सैकड़ों सवाल

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि कांग्रेस ऐसे उम्मीदवार को कैसे चुन सकती है, जिन्होंने अपने कार्यालय में जिन्नाह का पोस्टर लगाया था। क्या शरजील इमाम यहां चुनाव प्रचार के लिए आएंगे। वहीं, कांग्रेस नेता एस मिश्र ने कहा कि मैंने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है। हम ऐसे व्यक्ति को अपने उम्मीदवार के रूप में कैसे स्वीकार कर सकते हैं। हमारे प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा को जवाब देना चाहिए।

ये भी देखें: Gold में रिकॉर्ड गिरावट: 5,547 रुपये तक हुआ सस्ता, चांदी भी तेजी से लुढ़की

कांग्रेस अपने प्रत्याशी के समर्थन में उतर आई है

वहीं, जेडीयू नेता अजय आलोक ने कहा कि यह एलएन मिश्रा के परिवार और मदन मोहन झा के बीच पुरानी प्रतिद्वंद्विता का परिणाम है। अब कांग्रेस को यह समझाने की जरूरत है। कांग्रेस अपने प्रत्याशी के समर्थन में उतर आई है। पार्टी के प्रवक्ता राजेश राठौर ने कहा कि जब कोई मुद्दा नहीं मिलता तो बीजेपी ऐसी ही बात करती है। कांग्रेस नेता ने कहा कि बीजेपी को पहले अपने गिरेबान में झांकना चाहिए। जो पार्टी गांधी के हत्यारे गोडसे का महिमामंडन करती है, उसे सदन भेजती है वो आज सवाल कैसे खड़े कर रही है। उस्मानी ने कभी जिन्ना का महिमामंडन नहीं किया है।

Newstrack

Newstrack

Next Story