×

दूल्हे के सामने दुल्हन की शादी, कम बाराती देख भड़के लड़की वाले, बिटिया को कर दिया कहीं और विदा

Bride Side Refused Marriage : दुल्हन के चाचा बाकायदा सब बारातियों को लाइन में लगवा दिए। फिर गिने, एक नहीं दो दो बार गिने । लेकिन दोनों बार केवल तीस निकले ।

Nitendra Verma

Nitendra VermaWritten By Nitendra VermaShivaniPublished By Shivani

Published on 28 July 2021 5:13 AM GMT

Bride Side Refused Marriage
X

शादी काॅन्सेप्ट इमेज 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Bride Side Refused Marriage : भैया बात उन्नीस सौ पंचानबे की है । बहुतै हिट पिच्चर थी । मतलब ताबड़तोड़ हिट । उसमें एक गाना था - अच्छा सिला दिया तूने मेरे प्यार का । गाना क्या था भैया ये समझिये कि उस दौर में टूटे दिल वालों के दिल की रिंग टोन थी ।

आज हम आपको लिए चल रहे हैं मथुरा । यहाँ की घटना सुन के आप भी रो पड़ेंगे । तो हुआ यूं कि यहां के राया थाना क्षेत्र में एक गाँव में बारात आनी थी । बारात आयी भी । पूरा बैंड बाजा बारात सहित दूल्हे राजा पहुंचे । नागिन डांस से लई के गजबन पानी तक अईसे बैले डांस किये हैं कि क्या सपना चौधरी औ क्या नूरा फतेही ।

जो मिला के पानी पिए थे उनकी तो खैर कउनो बात नहीं । लेकिन बाकी नाश्ता देखते ही टूट पड़े । गलती बेचारे बारातियों की भी नहीं । ई ससुरा कोरोना ही सब समस्या की जड़ है । साल साल भर बाद बारात नसीब होगी तो आदमी भला क्या करेगा । दूल्हे राजा बेताब हुए जा रहे थे । मन ही मन गुनगुनाये जा रहे थे - कब होगा हमार गठबंधन ।

कोरोना गाइडलाइन के तहत पहुंचे 30 बाराती

तभी दुल्हन के चाचा निकल पड़े । बाकायदा सब बारातियों को लाइन में लगवा दिए । फिर गिने । एक नहीं दो दो बार गिने । लेकिन दोनों बार केवल तीस निकले । तीस तो जो थे वो तो थे ही उसमे से आधे तो सिंगल हड्डी थे । बस्स चाचा जी की सटक गई । बोले ये हमारा अपमान है । शादी नहीं होगी ।


लड़के वाले सकपका गये । बोले कोरोना गाइड लाइन है 30 ही ला सकते हैं । इतना सुनते ही चचा जी और भड़क गए । बोले अब तो बिलकुल नहीं होगी । इतना सुनना था कि दूल्हे राजा का दिल छन्न से टुकड़े टुकड़े हो गया । लड़के वाले बहुत समझाये लेकिन न मतलब न । इससे पहले कि बात और बिगड़े सारे बाराती खा पी के टंच हो लिए ।

कम बाराती देख भड़के दुल्हन के चाचा

चचा जान फौरन एक लड़के का इंतजाम किए । वहीं उसी बारात औ उसी दूल्हे के सामने सजी सजाई दुल्हन की शादी नये रेडीमेड दूल्हे से करा दिए । अब बेचारे दूल्हे के दिल पर क्या गुजरी होगी । उसकी अपनी आँखों के सामने उसकी दुल्हन को कोई और दूल्हा वरमाला पहना रहा था ।

कोरोना जो न कराये कम है । लेकिन सरकार को भी इस ओर तत्काल ध्यान देने की जरूरत है । मल्लब बाराती इतने तो पहुँचने ही चाहिए कि लौटने की नौबत न आये ।

आप सुन रहे थे मिस्टर झक्कीलाल जो बातों बातों में कर देते हैं लाल । इनकी बातों का अंदाज है निराला सुनते रहिये हाथों में लेके चाय का प्याला । इसे लिखा नितेंन्द्र वर्मा ने सुनाया शौभिक पालित ने और सुना आपने । पसन्द आये तो फौरन लाइक, कमेंट औ शेयर करिये । चलते हैं...

Shivani

Shivani

Next Story