गैंगरेप पीड़िता ने की आत्महत्या, वजह बनी पुलिस, भड़के आप सांसद

आप सांसद संजय सिंह ने बुधवार सुबह ट्वीट कर कहा कि हाथरस के बाद अब चित्रकूट, अत्याचार की इंतेहा हो गई गरीब दलित की बेटी की बेबसी देखिए इस बेबसी का अंदाजा लगाइए गैंगरेप की एफआईआर दर्ज नहीं हुई उसने आत्महत्त्या कर ली योगी जी आपका राज “अन्यायी राज” है जहां गरीब दलित के लिए न्याय नहीं है।

Published by Roshni Khan Published: October 14, 2020 | 10:47 am
Modified: October 14, 2020 | 11:45 am
sanjay-singh

योगी सरकार के अन्यायी राज में गरीब व दलित के लिए न्याय नहीं: संजय सिंह (social media)

लखनऊ: आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद व यूपी प्रभारी संजय सिंह ने राज्य में लगातार महिलाओं व बच्चियों के खिलाफ हो रहे अपराध पर योगी सरकार पर अन्याय राज चलाने का आरोप लगाया है। संजय सिंह ने चित्रकूट में एक दलित युवती के साथ हुए गैंगरेप की एफआईआर न लिखे जाने पर युवती द्वारा आत्महत्या कर लेने पर योगी सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाया है।

ये भी पढ़ें:ऐसे घुसेंगे सिनेमाहॉल में: इन नियमों को याद कर लें, तभी देख पाएँगे फिल्म

आप सांसद संजय सिंह ने बुधवार सुबह ट्वीट कर कहा

आप सांसद संजय सिंह ने बुधवार सुबह ट्वीट कर कहा कि हाथरस के बाद अब चित्रकूट, अत्याचार की इंतेहा हो गई गरीब दलित की बेटी की बेबसी देखिए इस बेबसी का अंदाजा लगाइए गैंगरेप की एफआईआर दर्ज नहीं हुई उसने आत्महत्त्या कर ली योगी जी आपका राज “अन्यायी राज” है जहां गरीब दलित के लिए न्याय नहीं है।

sanjay-singh-tweet
sanjay-singh-tweet (social media)

उच्च न्यायालय ने योगी सरकार को फटकार लगायी है

दरअसल, आप सांसद बीते करीब दो महीनों से लगातार योगी सरकार पर हमलावर है। उन्होंने कहा कि उच्च न्यायालय ने योगी सरकार को फटकार लगायी है। यह फटकार योगी सरकार के मुंह पर एक जोरदार तमाचा है। उन्होंने कहा कि योगी सरकार को सत्ता में रहने का अधिकार नहीं है, योगी को तत्काल अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

आप प्रभारी ने आरोप लगाया

आप प्रभारी ने आरोप लगाया कि दलित परिवार की बेटी को न्याय न मिल सके, इसलिए प्रदेश में झूठ फैलाया जा रहा है और विपक्ष पर भ्रम फैलाने तथा प्रदेश में दंगा कराने की साजिश का आरोप लगाया जा रहा है। संजय सिंह ने सवाल उठाया कि आखिर विपक्ष ये साजिश रच रहा है तो योगी सरकार ने हाईकोर्ट में 100 करोड़ की फंडिंग का मामला क्यों नहीं बताया? नक्सली भाभी का मामला क्यों नहीं बताया ?दंगे फैलाने और साजिश का कोई सबूत हाईकोर्ट के सामने क्यों नहीं दिखाया।

ये भी पढ़ें:विकास दुबे पर खेल: 200 अहम फाइलें हो गईं गायब, कलेक्ट्रेट में मचा हड़कंप

उन्होंने कहा कि यह सरकार खुद झूठ व अफवाह फैलाती है, भ्रम फैलाती है, मीडिया का ध्यान बांटती हैऔर जनता का ध्यान बांटती है। पार्टी इसकी कड़े शब्दों में आलोचना व निंदा करती है। उन्होंने हाथरस मामले में पीड़ित परिवार को सुरक्षा देने, केस को दूसरे राज्य में ट्रांसफर करने तथा सीबीआई जांच सुप्रीम कोर्ट के जज की मानिटरिंग में कराने की मांग की।

मनीष श्रीवास्तव

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App