पश्चिम बंगाल में उपजी अराजकता के लिये भाजपा और तृणमूल कांग्रेस जिम्मेदार : येचुरी

येचुरी ने कोलकाता में चुनावी हिंसा के दौरान समाज सुधारक ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा तोड़े जाने की घटना का जिक्र करते हुये बुधवार को ट्वीट किया, ‘‘भाजपा और तृणमूल कांग्रेस द्वारा उत्पन्न की गई अराजकता ने बंगाल की आत्मा पर कुठाराघात किया है। उन्हें (भाजपा और तृणमूल कांग्रेस को) निश्चित रूप से इस जिम्मेदारी से पल्ला नहीं झाड़ने दिया जा सकता।’’

नयी दिल्ली: माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी ने पश्चिम बंगाल में उपजी चुनावी हिंसा के लिये भाजपा और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को जिम्मेदार ठहराते हुये कहा है कि इससे ‘बंगाल की आत्मा’ पर कुठाराघात किया गया है।

ये भी देंखे:भारत की विश्व कप टीम में एक तेज गेंदबाज की कमी : गंभीर

येचुरी ने कोलकाता में चुनावी हिंसा के दौरान समाज सुधारक ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा तोड़े जाने की घटना का जिक्र करते हुये बुधवार को ट्वीट किया, ‘‘भाजपा और तृणमूल कांग्रेस द्वारा उत्पन्न की गई अराजकता ने बंगाल की आत्मा पर कुठाराघात किया है। उन्हें (भाजपा और तृणमूल कांग्रेस को) निश्चित रूप से इस जिम्मेदारी से पल्ला नहीं झाड़ने दिया जा सकता।’’

उल्लेखनीय है कि मंगलवार को कोलकाता में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान दो गुटों के बीच हिंसक झड़प हुयी। इसी दौरान समाज सुधारक और बंगाल नवजागरण काल की प्रमुख हस्ती ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया। इस घटना के बाद राज्य में उपजे हालात के लिये भाजपा और तृणमूल कांग्रेस ने एक दूसरे को जिम्मेदार ठहराया है।

ये भी देंखे:विश्व परिवार दिवस आज: परिवार को एक सूत्र में बांधे रखना है सबकी जिम्मेदारी

येचुरी ने विद्यासागर की प्रतिमा क्षतिग्रस्त किये जाने की घटना का जिक्र करते हुये एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘यह सिर्फ एक प्रतिमा का मामला नहीं है बल्कि यह बंगाल पर सुनियोजित हमला है। बंगाल में नवजागरण काल के सबसे बड़े प्रतीकों में शुमार शख्सियत (विद्यासागर) पर भाजपा, आरएसएस ने हमला किया है। प्रगति विरोधी इन लोगों ने हमेशा ही विद्यासागर के विचारों का विरोध किया।’’

(भाषा)