कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर बोला जोरदार हमला, इस फैसले पर उठाए सवाल

कांग्रेस पार्टी ने केंद्र सरकार पर जोरदार हमला बोला है। इतना ही नहीं राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र और लोक भविष्य निधि (पीपीएफ) समेत लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दरें कम करने के फैसले को ‘संवेदनहीन और मूर्खतापूर्ण’ करार दिया है।

नरेंद्र मोदी फ़ाइल फोटो

नरेंद्र मोदी फ़ाइल फोटो

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी ने केंद्र सरकार पर जोरदार हमला बोला है। इतना ही नहीं राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र और लोक भविष्य निधि (पीपीएफ) समेत लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दरें कम करने के फैसले को ‘संवेदनहीन और मूर्खतापूर्ण’ करार दिया है। केंद्र सरकार से आग्रह किया है कि इस कटौती को वापस लिया जाए और अगले तीन महीने के लिए ईएमआई पर ब्याज माफ किया जाए।

कांग्रेस के प्रवक्ता जयवीर शेरगिल का कहना है कि भाजपा सरकार को ‘मुनाफा मेरा और नुकसान तेरा’ नीति नहीं अपनानी चाहिए। उन्होंने वीडियो लिंक के माध्यम से मीडिया से कहा, ‘देश कोरोना वायरस के संकट से गुजर रहा है।

CM योगी ने मनरेगा के श्रमिकों के बैंक खाते में एकमुश्त धनराशि ट्रांसफर की, देखें तस्वीरें

आज जब देशवासी कोरोना, आर्थिक मंदी, महंगाई की मार झेल रहा है, तो उसे केंद्र सरकार से राहत की उम्मीद थी। लेकिन आज एक अमानवीय आदेश के जरिए केंद्र सरकार ने छोटी बचत पर ब्याज दर में कटौती कर दी। ‘ उन्होंने आरोप लगाया कि यह निर्णय संवेदनहीन और मूर्खतापूर्ण है।

शेरगिल ने कहा, ‘इससे पहले मार्च के महीने में स्टेट बैंक ने बचत खातों पर ब्याज में कमी कर दी थी। एफडी का ब्याज भी कम कर दिया गया। इससे लोगों को 7000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। भाजपा को “मुनाफा मेरा, नुकसान तेरा” वाली नीति को त्याग देना चाहिए।’ उन्होंने कहा,’हमारी दो मांगें हैं। पहली कि ब्याज दरों में कटौती को वापस लिया जाए। दूसरी कि अगले तीन महीने के लिए ईएमआई पर ब्याज माफ किया जाए।

कांग्रेस नेता के सीने पर बदमाशों ने चलाई कई राउंड गोलियां, मौत