हरियाणा में कांग्रेस-बसपा गठबंधन पर लगा ब्रेक, सतीश मिश्रा ने कही ये बड़ी बात

हरियाणा में विधानसभा चुनाव से पहले राज्य में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी( बीएसपी) के बीच गठबंधन को लेकर चल रही अटकलों पर आज विराम लग गया।

नई दिल्ली: हरियाणा में विधानसभा चुनाव से पहले राज्य में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के बीच गठबंधन को लेकर चल रही अटकलों पर आज विराम लग गया।

हरियाणा विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के साथ गठबंधन की खबरों पर बीएसपी नेता और राज्य सभा सांसद सतीश चंद मिश्रा ने कहा, ‘बहुजन समाज पार्टी आने वाले हरियाणा विधानसभा चुनावों में सभी 90 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी। हमारा कांग्रेस या किसी अन्य पार्टी के साथ गठबंधन नहीं होगा।’

ये भी पढ़ें…राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र के सगे संमधी को बसपा ने दिया यहां से टिकट

आपको बता दें कि सोमवार को सूत्रों के ह्वाले से ये खबर आई थी कि हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्षा कुमारी शैलजा और हरियाणा कांग्रेस की चुनाव प्रचार समिति के चेयरमैन तथा भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने बसपा सुप्रीमो मायावती से मुलाकात की है।

जिसके बाद से ही ऐसी अटकलें लगाई जा रही थी कि ये दोनों पार्टियां गठबंधन करके हरियाणा में एक साथ चुनाव लड़ सकती है। लेकिन आज बीएसपी नेता सतीश मिश्रा के बयान के बाद से गठबंधन की खबरों पर विराम लग गया है।

बसपा ने जनता पार्टी से गठबंधन तोड़ने की घोषणा की

मायावती ने हाल ही में इंडियन नैशनल लोक दल से अलग होकर बनी दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी से गठबंधन तोड़ने की घोषणा की है।

मायावती ने गठबंधन तोड़ने की वजह दुष्यंत चौटाला का अनुचित रवैया और सीटों के बंटवारे पर तालमेल नहीं हो पाना बताई थी।

सोमवार को मायावती के साथ हुड्डा और कुमारी शैलजा के बीच से ऐसी संभावना जताई जा रही है कि हरियाणा में कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी मिलकर चुनाव लड़ सकते हैं।

ये भी पढ़ें…लखनऊ: मायावती ने किए बसपा संगठन में अहम बदलाव

90 में से 47 सीटों पर बीजेपी का कब्जा

हरियाणा में इसी साल विधानसभा चुनाव होने हैं, चुनाव आयोग जल्द ही हरियाणा सहित झारखंड और महाराष्ट्र के लिए विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान कर कर सकता है।

2014 में हुए हरियाणा विधानसभा चुनावों के दौरान राज्य विधानसभा की 90 सीटों में से 47 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी को जीत मिली थी जबकि कांग्रेस को 15 और इंडियन नैशनल लोक दल को 19 सीटों पर जीत मिली थी।

ये भी पढ़ें…सीएम कमलनाथ ने एमपी कांग्रेस अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा: सूत्र