सीएम कमलनाथ ने एमपी कांग्रेस अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा: सूत्र

सूत्रों के हवाले से ऐसी खबरें भी आ रही हैं कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कमलनाथ का इस्तीफा मंजूर भी कर लिया है। हालांकि कांग्रेस पार्टी की तरफ से इस मामले में कोई आधिकारिक बयान अभी तक सामने नहीं आया है।

भोपाल: कांग्रेस में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। ऐसा हम नहीं बल्कि ये बात अंदरखाने के सूत्र कह रहे हैं। सूत्रों के हवाले से जो खबर निकलकर सामने आ रही है।

उसके मुताबिक़ सीएम कमलनाथ ने एमपी कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। नए अध्यक्ष की घोषणा जल्द ही की जाएगी।

इसके पीछे एक बड़ी वजह ज्योतिराधित्या सिंधिंया और कमलनाथ के बीच अंतर्कलह बताई जा रही है।

ये भी पढ़ें…मोदी सरकार के 100 दिन के कार्यकाल पर प्रियंका ने कसा तंज, कही ये बड़ी बात

कमलनाथ का इस्तीफा मंजूर: सूत्र

सूत्रों के हवाले से ऐसी खबरें भी आ रही हैं कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कमलनाथ का इस्तीफा मंजूर भी कर लिया है। हालांकि कांग्रेस पार्टी की तरफ से इस मामले में कोई आधिकारिक बयान अभी तक सामने नहीं आया है।

बताते चले कि काफी दिनों से मध्य प्रदेश कांग्रेस में सब कुछ ठीकठाक नहीं चल रहा था। सीएम कमलनाथ और ज्योतिराधित्या सिंधिंया के बीच अंतर्कलह की बात सामने के आई थी।

अब खबर आ रही है कि सीएम कमलनाथ से एमपी कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है।

ये भी पढ़ें…पीएम मोदी ने अनुच्छेद-370 हटाकर एक ऐतिहासिक फैसला लिया: सीएम योगी

12 सितंबर को दिल्ली में कांग्रेस की अहम बैठक

सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि 12 सितंबर को दिल्ली में सोनिया गांधी ने अहम बैठक बुलाई है। अंतर्कलह के बाद इस बैठक में कई बड़े फैसले हो सकते हैं।

10 सितंबर को ज्योतिरादित्य सिंधिया भी सोनिया गांधी से मुलाकात करने वाले हैं। सोनिया गांधी चाहती हैं कि नए प्रदेश अध्यक्ष का फैसला कमलनाथ और सिंधिया दोनों की मर्जी से हो।

ये भी पढ़ें…बदजुबानी के ‘आजम’ का बचाव क्यों कर रहे मुलायम

गौरतलब है कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से शनिवार को दिल्ली में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुलाकात की थी। इस दौरान सोनिया ने मध्यप्रदेश में कांग्रेस नेताओं के बीच जारी कलह को लेकर चिंता जताई।

कमलनाथ शनिवार सुबह दिल्ली पहुंचे और शाम को वह सोनिया के आवास गए। बैठक लगभग एक घंटे तक चली। कमलनाथ ने मीडिया से कहा, ‘मैंने सोनिया गांधी से मुलाकात की और उन्होंने मध्यप्रदेश में पार्टी में अनुशासनहीनता पर चिंता जाहिर की।’