Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

'शुद्र' वाले बयान पर बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, जानें पूरी बात

जीतन राम मांझी ने अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा है-''बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा जी से आग्रह है कि अपने बड़बोली सांसद प्रज्ञा ठाकुर को समझाएं कि वह एससी, एसटी समाज को अपमानित ना करें।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 15 Dec 2020 9:01 AM GMT

शुद्र वाले बयान पर बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, जानें पूरी बात
X
भोपाल के पास सीहोर में सोमवार को क्षत्रीय समाज के कार्यक्रम में प्रज्ञा ठाकुर ने कहा था, हमारी धर्म व्यवस्था में चार वर्ग तय किए गए थे।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पटना: मध्य प्रदेश के भोपाल संसदीय क्षेत्र से बीजेपी की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर हाल ही में द्वारा दिए गये एक बयान को लेकर अब सियासत गरमाने लगी है।

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के प्रमुख जीतन राम मांझी ने उन्हें नसीहत देते हुए कहा कि वे हमें नहीं बताएं कि कौन शूद्र है और कौन आतंकवादी।

मांझी ने सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयान पर बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा को उन्हें समझाने की सलाह दी है। जीतन राम मांझी की पार्टी 'हम' एनडीए में शामिल है।

Jitan Ram Manjhi, जीतनराम मांझी (फोटो: सोशल मीडिया)

CM केजरीवाल ने किया ऐलान- 2022 में उत्तर प्रदेश का विधानसभा चुनाव लड़ेगी AAP

जीतन राम मांझी ने ट्वीट करके कही ये बात

उन्होंने अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा है, ''बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा जी से आग्रह है कि अपने बड़बोली सांसद प्रज्ञा ठाकुर को समझाएं कि वह एससी, एसटी समाज को अपमानित ना करें। प्रज्ञा ठाकुर हमें ना बताएं कि कौन शूद्र है और कौन आतंकवादी।

बढ़ीं ममता की मुसीबतें: मोदी के कायल हुए TMC नेता, जमकर की PM की तारीफ

SADHVI PRAGYA प्रज्ञा ठाकुर (फोटो-सोशल मीडिया)

प्रज्ञा ठाकुर ने दिया था ये बयान

भोपाल के पास सीहोर में सोमवार को क्षत्रीय समाज के कार्यक्रम में प्रज्ञा ठाकुर ने कहा था, हमारी धर्म व्यवस्था में चार वर्ग तय किए गए थे। ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र। ब्राह्मण को ब्राह्मण कहो उसे बुरा नहीं लगता, क्षत्रिय को क्षत्रिय कहो उसे बुरा नहीं लगता, वैश्य को वैश्य कहो तो बुरा नहीं लगता, मगर शूद्र को शूद्र कहो तो उसे बुरा लग जाता है, क्योंकि उसमें नासमझी है, ये समझ नहीं पाते।

प्रज्ञा ठाकुर पहले भी दे चुकी हैं विवादित बयान

बीजेपी की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर पहले भी कई बार विवादित बयान दे चुकी हैं। इससे पहले भाजपा के प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में लेने के दौरान साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने चीन के मुद्दे पर कांग्रेस की ओर से पूछे गए सवालों को लेकर कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला था।

उन्होंने कहा था कि विदेशी महिला के गर्भ से जन्मा कोई भी व्यक्ति राष्ट्रभक्त नहीं हो सकता। साध्वी ने चाणक्य को याद करते हुए कहा था कि इस भूमि का पुत्र ही देश की रक्षा कर सकता है। हालांकि अपने बयान में साध्वी ने किसी का नाम नहीं लिया मगर उनका इशारा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी की ओर ही था।

RSS का महबूबा और फारूक पर बड़ा हमला, चीन या पाकिस्तान चले जाने की सलाह

Newstrack

Newstrack

Next Story