Top

MP में इस दिन फ्लोर टेस्ट: कमलनाथ के मंत्री का एलान, कब-कैसे करेंगे बहुमत साबित

भाजपा कांग्रेस की सरकार से एमपी में बहुमत साबित करने की मांग कर रही है तो वहीं अब सीएम कमलनाथ के मंत्री ने फ्लोर टेस्ट को लेकर एक बड़ा बयान जारी किया है।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 17 March 2020 6:46 AM GMT

MP में इस दिन फ्लोर टेस्ट: कमलनाथ के मंत्री का एलान, कब-कैसे करेंगे बहुमत साबित
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

भोपाल: मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार के फ्लोर टेस्ट को लेकर घमासान मच गया है। भाजपा कांग्रेस की सरकार से एमपी में बहुमत साबित करने की मांग कर रही है तो वहीं अब सीएम कमलनाथ के मंत्री ने फ्लोर टेस्ट को लेकर एक बड़ा बयान जारी किया है। उन्होंने शर्त रखी है कि जब तक बेंगलुरु से उनके विधायक नहीं आयेंगे तब तक फ्लोर टेस्ट नहीं होगा।

जब तक विधायक वापस नहीं आएंगे, फ्लोर टेस्‍ट नहीं कराए जाएंगे

दरअसल, मुख्‍यमंत्री कमलनाथ के कानून मंत्री पीसी शर्मा (PC Sharma) ने कहा कि बेंगलुरु से जब तक विधायक वापस नहीं आएंगे, फ्लोर टेस्‍ट नहीं कराए जाएंगे। गौरतलब है कि इसके पहले राज्यपाल लालजी टंडनने कमलनाथ सरकार को 17 मार्च को फ्लोर टेस्‍ट कराने का निर्देश दिया था। इतना ही नहीं मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया।

ये भी पढ़ें: कमलनाथ के 10 दिन: क्या बचा पाएंगे सत्ता या BJP के इन विकल्पों से गिरेगी सरकार

कानून मंत्री ने कहा कि सरकार सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करेगी। हालंकि फ्लोर टेस्ट के लिए विधायकों की वापसी की शर्त भी रखी। उन्होंने ये भी कहा कि राज्यपाल की चिट्ठी का जवान सीएम कमलनाथ देंगे। वहीं भाजपा पर आरोप लगाया कि बेंगलुरु के बंधक विधायक को लेकर बीजेपी के नेता झूठ बोल रहे हैं।

ये भी पढ़ें: दुनिया में भारत की ही बात: कोरोना से बचने के लिए हर कोई कर रहा ऐसा, लड़ रहा जंग

राज्यपाल ने 17 मार्च को फ्लोर टेस्ट कराने का किया था ऐलान

बता दें कि इसके पहले सोमवार को राज्यपाल लालजी टंडन ने कमलनाथ सरकार को 17 मार्च यानी आज मंगलवार को फ्लोर टेस्ट कराने के लिए कहा था। राज्यपाल ने सोमवार शाम सीएम कमलनाथ को भेजी चिट्ठी में लिखा था, सरकार 17 मार्च को विधानसभा में फ्लोर टेस्ट करवाए, अगर ऐसा नहीं हुआ तो माना जाएगा कि सरकार को सदन में बहुमत हासिल नहीं है।

एससी में सुनवाई कल तक के लिए टली:

भाजपा ने सुप्रीम कोर्ट में फ्लोर टेस्ट कराने की मांग को लेकर याचिका दायर की थी। जिसके आज सुनवाई होनी थी, हालाँकि कोर्ट में कांग्रेस की ओर से कोई नहीं पहुंचा था, जिसके बाद सुनवाई को कल तक के लिए टाल दिया गया और कांग्रस व स्पीकर को इस बाबत नोटिस जारी की गयी।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story