Top

दुनिया में भारत की ही बात: कोरोना से बचने के लिए हर कोई कर रहा ऐसा, लड़ रहा जंग

चीन के वुहान से पनपा जानलेवा कोरोना वायरस (Coronavirus) दुनियाभर के देशों को प्रभावित कर रहा है। भारत समेत कई देशों में लाखों की संख्या में लोग इस वायरस से प्रभावित हैं। कई राष्ट्र अपने अपने नागरिकों की जान बचाने के लिए दवाओं समेत कई उपाय कर रहे हैं।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 16 March 2020 11:52 AM GMT

दुनिया में भारत की ही बात: कोरोना से बचने के लिए हर कोई कर रहा ऐसा, लड़ रहा जंग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: चीन के वुहान से पनपा जानलेवा कोरोना वायरस (Coronavirus) दुनियाभर के देशों को प्रभावित कर रहा है। भारत समेत कई देशों में लाखों की संख्या में लोग इस वायरस से प्रभावित हैं। कई राष्ट्र अपने अपने नागरिकों की जान बचाने के लिए दवाओं समेत कई उपाय कर रहे हैं। इन सब के बीच सबसे ज्यादा चर्चा में है भारतीय तरीके से अभिवादन करना यानी नमस्ते करना। दुनियाभर में इन दिनों नमस्ते की चर्चा है। वहीं अब कोरोना से होने वाली बैचैनी से बचने के लिए हार्वर्ड मेडिकल स्कूल (Harvard Medical School) के एक्सपर्ट्स ने जो सलाह दी है वह भी भारत से जुडी है। कहा गया कि कोरोना से निपटने के लिए योग (Yoga) और ध्यान (Meditation) करें।

कोरोना से निपटने के लिए करें योग:

दरअसल, हार्वर्ड मेडिकल स्कूल ने कोरोना वायरस से निपटने में योग और ध्यान को मददगार बताया है। अमेरिका ने प्रमुख मेडिकल इंस्टीट्यूट में से एक हार्वर्ड ने एक बयान जारी किया है कि कोरोना वायरस से जुड़ी व्यग्रता और बेचैनी से निपटने के लिए योग करना चाहिए। अमेरिका में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए हार्वर्ड मेडिकल स्कूल ने एक नई हेल्थ गाइडलाइन जारी की, जिसमें कोरोना पीड़ितों को बेचैनी होने पर योग और ध्यान की सलाह दी

ये भी पढ़ें: दिग्गज हस्तियों की जान को खतरा, इस महामारी ने इनको भी नहीं छोड़ा

ट्रंप और इजराइली पीएम ने नमस्ते करने की दी सलाह:

इतना ही नहीं इसके पहले अमेरिका के प्रधानमंत्री डोनाल्ड ट्रंप और इजराइल के पीएम नेतन्याहू ने भी माना कि कोरोना से बचने के उपायों में नमस्ते भी एक कारगर तरीका है। गौरतलब है कि डोनाल्ड ट्रंप ने अपने मेहमान आयरलैंड के प्रधानमंत्री लियो वराडकर का स्वागत नमस्ते कहकर किया था।

वहीं जानलेवा कोरोना वायरस से बचने के लिए इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू देश के नागरिकों को एक सलाह दी है कि वो कोरोना से बचने के लिए भारतीय तरीके को अपनाएं। उन्होंने लोगों से कहा है कि वो अभिवादन के लिए हाथ मिलाने की जगह, भारतीयों की तरह नमस्ते कहें। इससे कोरोना वायरस को रोकने में मदद मिलेगी।

ये भी पढ़ें: स्वर्ग है इन दिग्गजों का घर: अंदर का इंटीरियर देख उड़ जाएंगे होश, लगे हैं अरबों रूपये

इसपर शशि थरूर ने ट्वीट करते हुए कहा था कि भारत की हर परम्परा महान है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि हमारी हर परंपरा में विज्ञान है, तभी तो भारत महान है। वहीं सोशल मीडिया पर शशि थरूर के इस जवाब की काफी तारीफ की जा रही है।



ये भी पढ़ें: CORONA: कौन और कब करा सकता है टेस्ट, सरकार ने बनाए नियम

बता दें कि पीएम मोदी भी लोगों को नमस्ते कर अभिवादन करने की सलाह दे चुके हैं। जिसको कई देशों के प्रमुखों ने माना भी है। वहीं योग को दुनियाभर में अपनाया और हर साल विश्व योग दिवस मनाया जाता है। ऐसे में ये दोनों भारतीय उपाय इन दिनों जानलेवा वायरस से निपटने के लिए बेहद कारगर है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story