Top

कर्नाटक सरकार पर संकट के बादल, CM येदियुरप्पा के खिलाफ उठी आवाजें

कर्नाटक के भारतीय जनता पार्टी (BJP) के इन नाराज विधायकों ने मंगलवार को अपनी बैठक करने का ऐलान किया है। हालांकि कर्नाटक सरकार पर फिलहाल किसी तरह के संकट होने की खबरों को खारिज किया गया है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 19 Jan 2021 8:54 AM GMT

कर्नाटक सरकार पर संकट के बादल, CM येदियुरप्पा के खिलाफ उठी आवाजें
X
कर्नाटक सरकार पर संकट के बादल, CM येदियुरप्पा के खिलाफ उठी आवाजें
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बेंगलुरु: कर्नाटक में बी. एस. येदियुरप्पा (B.S. Yediyurappa) सरकार का कैबिनेट विस्तार हो चुका है। यह विस्तार 17 महीने में तीसरी बार किया गया है। इस विस्तार के बाद अब भारतीय जनता पार्टी (BJP) में आंतरिक मतभेद दिखने लगे हैं। इस बीच राज्य के कुछ नाराज विधायकों ने दिल्ली में BJP के शीर्ष नेतृत्व से मिलकर अपनी बात रखने का संकेत दिया है।

मंगलवार को विधायक करेंगे बैठक

साथ ही कर्नाटक के भारतीय जनता पार्टी (BJP) के इन नाराज विधायकों ने मंगलवार को अपनी बैठक करने का ऐलान किया है। हालांकि कर्नाटक सरकार पर फिलहाल किसी तरह के संकट होने की खबरों को खारिज किया गया है। वहीं सीएम बी. एस. येदियुरप्पा के खिलाफ खड़े विधायकों का भी यहीं कहना है कि उन्हें किसी भी तरह से बागी ना कहा जाए।

यह भी पढ़ें: महंगाई पर प्रियंका का तंज, लोगों की जेब काटकर अरबपति मित्रों की मदद

B.S (फोटो- सोशल मीडिया)

क्या है विधानसभा में बीजेपी की स्थिति?

आपको बता दें कि 224 सदस्यों की कर्नाटक विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी के पास 122 विधायकों का समर्थन है। इनमें से कुल 119 बीजेपी के सदस्य हैं तो वहीं तीन निर्दलीय विधायक हैं। इसके अलावा बीजेपी के विपक्ष पार्टियों यानी कांग्रेस के पास 224 सदस्यों की विधानसभा 67 विधायक और जनता दल (सेक्युलर) के पास 33 विधायक हैं। बता दें कि ये दोनों दल विपक्ष का हिस्सा हैं।

रेणुकाचार्य ने कही ये बात

बीजेपी के नाराज विधायक आज बैठक करने वाले हैं। हालांकि येदियुरप्पा के खिलाफ आवाज उठाने वाले विधायकों का कहना है कि आज को होने वाली मीटिंग अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लोकतांत्रिक ढांचे के भीतर ही होगी। ऐसा माना जा रहा है कि ये विधायक इस बैठक में आगे की रणनीति पर मंथन करेंगे। होन्नाली से पार्टी के विधायक और येदियुरप्पा के वफादार समझे जाने वाले एम पी रेणुकाचार्य ने इस बारे में कहा कि बैठक में हम लोग आगे की रणनीति बनाएंगे।

यह भी पढ़ें: ‘दीदी’ को लेकर क्या सोचता है बंगाल, इस बार भी होगी वापसी या नहीं, पढ़ें ये सर्वे रिपोर्ट

karnataka (फोटो- सोशल मीडिया)

दिल्ली में वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात कर सकते हैं नाराज विधायक

इसके साथ ही रेणुकाचार्य ने मीडिया से आग्रह किया है उन्हें असंतुष्ट या बागी विधायक न समझा जाए। माना जा रहा है कि ये सभी विधायक नई दिल्ली में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से भी मुलाकात कर सकते हैं। आपको बता दें कि मंत्रिमंडल विस्तार होने के तुरंत बाद ही करीब एक दर्जन बीजेपी विधायकों ने येदियुरप्पा के खिलाफ बगावत की थी।

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र में शिवसेना व कांग्रेस में टकराव, दोनों दलों की जंग से उद्धव सरकार पर संकट

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story