Top

कुमारस्वामी-येदियुरप्पा हुए एक: कर्नाटक में बड़ा राजनीतिक बदलाव, कांग्रेस को झटका

जेडीएस के कुमारस्वामी और भाजपा के बीएस येदियुरप्पा, जो की वर्तमान में कर्नाटक के मुख्यमंत्री हैं, ने हाथ मिला लिया है। दोनों दिग्गजों के साथ आने का खामियाजा कांग्रेस पर पड़ेगा।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 28 Jan 2021 3:47 PM GMT

कुमारस्वामी-येदियुरप्पा हुए एक: कर्नाटक में बड़ा राजनीतिक बदलाव, कांग्रेस को झटका
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बेंगलुरु: कर्नाटक की राजनीति में बड़ा सियासी बदलाव हुआ है। जनता दल सेक्युलर (JDS) और भारतीय जनता पार्टी के बीच गठबंधन हो गया है। ऐसे में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। बता दें कि भाजपा कर्नाटक में सत्ताधारी पार्टी हैं और जेडीएस मुख्य विपक्षी दल। वैसे जेडीएस के भाजपा से हाथ मिलाने के पीछे एक बड़ी वजह भाजपा का वो दांव है। कर्नाटक विधान परिषद में सिर्फ 13 सदस्य होने के बावजूद अध्यक्ष का पद बीजेपी ने JDS को देने का फैसला किया है।

कर्नाटक में JDS और भाजपा ने मिलाया हाथ

दरअसल, कर्नाटक में राजनीतिक नाटक फिर शुरू हो गया है। जेडीएस के कुमारस्वामी और भाजपा के बीएस येदियुरप्पा, जो की वर्तमान में कर्नाटक के मुख्यमंत्री हैं, ने हाथ मिला लिया है। दोनों दिग्गजों के साथ आने का खामियाजा कांग्रेस पर पड़ेगा। गौरतलब है कि कुमारस्वामी की नवनिर्वाचित सरकार को येदियुरप्पा ने कुछ ही दिनों में गिरा दिया था और सत्ता पर काबिज हुए थे।

ये भी पढ़ेंः गिरफ्तार होंगे टिकैत: गाजीपुर बॉर्डर पर धारा 144 लागू, वज्र वाहन भी लाए गए

विधान परिषद चुनाव के लिए साथ आए कुमारस्वामी-येदियुरप्पा

इस बार मे येदियुरप्‍पा सरकार के मंत्री एस. ईश्वरप्पा ने जानकारी देते हुए कहा, 'बीजेपी ने फैसला किया है कि कांग्रेस और मुस्लिम लीग को दूर रखने के लिए दूसरी पार्टियों को साथ लिया जाएगा। ऐसे में भाजपा ने यहां जेडीएस को साथ लिया है। वहीं बीजेपी और जेडीएस कब तक साथ रहेंगे, यह देखने लायक होगा।

अलग-थलग हुई कांग्रेस

इसके पहले साल 2006 में भी दोनों पार्टियां साथ आ चुकी हैं, उस समय येदियुरप्पा के समर्थन से कुमारस्वामी कर्नाटक के मुख्यमंत्री बने। वहीं एक बार फिर भाजपा और जेडीएस विधान परिषद के सभापति और उपसभापति के चुनाव को लेकर साथ आई हैं।

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story