राजस्थान सरकार ने 1 CR. लेने के बाद बिहारी छात्रों के लिए ट्रेनें चलने की अनुमति दी

कोटा में लॉकडाउन के दौरान फंसे छात्रों को उनके होम टाउन में बसों और ट्रेनों से पहुंचाने को लेकर शुरू हुआ वाद विवाद अभी थमा नहीं है। इसी कड़ी में ताजा बयान बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी का आया है।

Published by Aditya Mishra Published: May 27, 2020 | 2:53 pm
Modified: May 27, 2020 | 2:54 pm

पटना: कोटा में लॉकडाउन के दौरान फंसे छात्रों को उनके होम टाउन में बसों और ट्रेनों से पहुंचाने को लेकर शुरू हुआ वाद विवाद अभी थमा नहीं है। इसी कड़ी में ताजा बयान बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी का आया है।

जिसमें उन्होंने राजस्थान सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि एक करोड़ जमा कराने के बाद ही राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने बिहारी छात्रों की ट्रेन खुलने दी।

सुशील मोदी यही नहीं रुके बल्कि लालू यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) पर भी सवाल दागे। सुशील मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस अगर बिहारी छात्रों के लिए वसूले गए 1 करोड़ रुपये नहीं लौटाती है तो क्या लालू प्रसाद बिहार में इस पार्टी से गठबंधन तोड़ेंगे?’

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘राजस्थान के कोटा में फंसे बिहार के छात्रों को वापस लाने के लिए कांग्रेस और राजद ने बस भेजने और ट्रेन का किराया देने की बड़ी-बड़ी बातें कीं, लेकिन सब दिखावा साबित हुआ।

राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए सुशील कुमार मोदी ने कहा, ‘दूसरी तरफ राहुल गांधी की चुनावी प्रतिष्ठा बचाने वाले केरल के लोगों को बिहार से वापस भेजने के लिए कांग्रेस ने तीन बसों का किराया चुकाया।

कोटा मामले पर तंज कसते सीएम, बोले- पीएम ने भी कोई ठोस आश्वासन नहीं दिया

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App