अखिलेश के खिलाफ परिवार: बहू अर्पणा ने कह दी ये बात, वैक्सीन पर कसा तंज

 मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव ने यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के वैक्सीन ना लगवाने वाले बयान पर कहा कि उनका ये ऐलान ठीक नहीं है। वैक्सीन को किसी पॉलिटिकल पार्टी ने नहीं जोड़ा जाना चाहिए

Published by Shreya Published: January 4, 2021 | 4:09 pm

अपर्णा यादव अखिलेश यादव पर कसा तंज (फोटो- सोशल मीडिया)

लखनऊ: बीते दिनों उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर एक बड़ा बयान दिया था। उन्होंने कहा कि मैं अभी टीका नहीं लगवाने जा रहा हूं। मैं बीजेपी के टीके पर कैसे भरोसा कर सकता हूं। अब इस बयान अखिलेश यादव को अपने परिवार में ही विरोध का सामना करना पड़ रहा है। दरअसल, सपा के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव (Aparna Yadav) ने वैक्सीन को लेकर अखिलेश के बयान पर तंज कसा है।

अखिलेश यादव का ये ऐलान सही नहीं

मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव ने यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के वैक्सीन ना लगवाने वाले बयान पर कहा कि उनका ये ऐलान ठीक नहीं है। यह बिल्कुल भी सही नहीं है। अपर्णा यादव ने आगे कहा कि कोरोना की इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी दे दी गई है, वैक्सीन को किसी पॉलिटिकल पार्टी ने नहीं जोड़ा जाना चाहिए। टीका पूरी दुनिया के लिए है। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव को ऐसा नहीं करना चाहिए कि यह किसी राजनीतिक पार्टी से संबंधित है।

यह भी पढ़ें: ‘आप’ का बढ़ता दायरा: यूपी के बाद अब इस राज्य में, प्रवक्ता ने बताया पूरा प्लान

ये वैज्ञानिकों और डॉक्टरों का है अपमान

उन्होंने यहां तक कह दिया कि सभी लोग वैक्सीन का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। ऐसे में अखिलेश यादव का यह बयान भारत के वैज्ञानिकों और डॉक्टर्स का अपमान करना है। आपको बता दें कि अखिलेश के इस बयान पर विपक्षी दलों ने भी उन पर निशाना साधा है।

akhilesh vaccine statement
(फोटो- सोशल मीडिया)

इन नेताओं ने साधा अखिलेश पर निशाना

यूपी के उप मुख्यमंत्री और भाजपा नेता केशव प्रसाद मौर्य ने कहा था कि अखिलेश यादव जी को टीके पर भरोसा नहीं है और उत्तर प्रदेश वासियों को उनपर (अखिलेश यादव) भरोसा नहीं है। उनका टीके पर सवाल उठाना, हमारे देश के चिकित्सकों एवं वैज्ञानिकों का अपमान है जिसके लिए उन्हें माफ़ी मांगनी चाहिए।

वहीं अखिलेश यादव के चाचा और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि निसंदेह यह हर भारतीय के लिए गर्व का क्षण है। ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के कोविशील्ड और भारत बायोटेक के कोवैक्सीन को आपातकालीन स्थिति में प्रतिबंधित उपयोग की अनुमति दे दी है।भारतीय वैज्ञानिकों की मेधा और उद्यमिता को नमन।

यह भी पढ़ें: चंडीगढ़: BJP आज मेयर पद के लिए उम्मीदवार करेगी घोषित, अरुण सूद रेस से बाहर

इसके अलावा यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि ति-घातक कोरोनावायरस महामारी को लेकर आए स्वदेशी वैक्सीन टीके का स्वागत व वैज्ञानिकों को बहुत-बहुत बधाई। साथ ही केंद्र सरकार से विशेष अनुरोध भी है कि देश में सभी स्वास्थ्यकर्मियों के साथ-साथ सर्व समाज के अति-गरीबों को भी इस टीके की मुफ्त व्यवस्था की जाए तो यह उचित होगा।

क्या था अखिलेश यादव का बयान?

गौरतलब है कि अखिलेश यादव ने बीते दिन प्रेस कॉन्फ्रेंस में ऐलान किया था कि भारत में कोरोना वायरस की वैक्सीन आने के बाद भी वो टीका नहीं लगवाएंगे। उन्होंने कहा था कि मैं अभी टीका नहीं लगवाने जा रहा हूं। मैं बीजेपी के टीके पर कैसे भरोसा कर सकता हूं। जब हमारी सरकार बनेगी तो सभी को मुफ्त वैक्सीन मिलेगी। हम बीजेपी का टीका नहीं ले सकते।

यह भी पढ़ें: BJP नेता के बिगड़े बोल- ‘हम नहीं चाहते सहानुभूति के लिए ममता बनर्जी की हत्या हो’

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App