Top

CM पर शाह का तंज, कहा- ये जोर से बोलने की उम्र नहीं, तबियत बिगड़ जाएगी

गृह मंत्री अमित शाह मध्यप्रदेश के जबलपुर में सीएए के समर्थन में रैली कर रहे हैं। बता दें कि बतौर गृह मंत्री शाह पहली बार मध्य प्रदेश की यात्रा पर हैं।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 12 Jan 2020 10:30 AM GMT

CM पर शाह का तंज, कहा- ये जोर से बोलने की उम्र नहीं, तबियत बिगड़ जाएगी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जबलपुर: नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के लागू होने के बाद प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी समेत भाजपा के दिग्गज नेता इसके समर्थन में जागरूकता रैली कर लोगों को सीएए के बारे में जानकारी दे रहे हैं। इसी कड़ी में रविवार को गृह मंत्री अमित शाह मध्यप्रदेश के जबलपुर में रैली कर रहे हैं। बता दें कि बतौर गृह मंत्री शाह पहली बार मध्य प्रदेश की यात्रा पर हैं।

Live Update:

मध्य प्रदेश के गैरीसन मैदान में सीएए के समर्थन में लोगों का भ्रम दूर करते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि विपक्षी दल लोगों को गुमराह कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, CAA पर भाजपा एक जन जागरण अभियान चला रही है। ये जन जागरण अभियान भाजपा इसलिए चला रही है क्योंकि कांग्रेस पार्टी, केजरीवाल, ममता बनर्जी, कम्यूनिस्ट ये सभी इकट्ठा होकर देश को गुमराह कर रहे हैं।

आज मैं बताने आया हूं कि CAA में कहीं पर भी किसी की नागरिकता छीनने का प्रावधान नहीं है, इसमें नागरिकता देने का प्रावधान है।

ये भी पढ़ें: मोदी ने बुजुर्ग के छुए पैर तो वृद्ध का ये रिएक्शन देख आप हो जाएंगे भावुक



जब देश का बंटवारा हुआ और कांग्रेस पार्टी ने देश का बंटवारा धर्म के आधार पर किया। बंटवारे के समय पूर्वी और पश्चिमी पाकिस्तान से हिंदू, सिख, जैन, बौद्ध, पारसी और ईसाइ को भारत आना था, मगर उस समय स्थिति सही नहीं होने के कारण वहां वो रह गए

हमारे देश के सभी नेताओं ने आश्वासन दिया कि आप अभी वहां रह जाइए और आप जब भी कभी भारत आएंगे तो आपका स्वागत किया जाएगा, भारत आपको नागरिकता देगा।

2 जुलाई 1947 को महात्मा गांधी जी ने कहा- जिन लोगों को पाकिस्तान से भगाया गया, जो पाकिस्तान में रह गए हैं उनको पता होना चाहिए कि वो भारत के नागरिक थें, जब भी भारत में आना चाहते हैं भारत उनको नागरिकता देगा।

आज सारे कांग्रेसी पूरे देश में CAA का विरोध कर रहे हैं। जो गांधी जी ने कहा था, राहुल बाबा आप गांधी जी की भी नहीं सुनोगे। महत्मा गांधी जी को तो कबका आपने छोड़ दिया है।

पाकिस्तान से आए हुए शारणार्थियों का भी भारत पर अधिकार:

कांग्रेस वालों कान खोल कर सुन लो, जितना विरोध करना है करो, ये सारे लोगों को नागरिकता देकर ही हम दम लेंगे। भारत पर जितना अधिकार मेरा और आपका है, उतना ही अधिकार पाकिस्तान से आए हुए शारणार्थियों का है। वो भारत के बेटा-बेटी हैं, वो हमारा भाई हैं।

देश के अल्पसंख्यकों को उकसाया जा रहा है कि आपकी नागरिकता चली जाएगी। मैं देश के अल्पसंख्यक भाइयों-बहनों से कहने आया हूं कि CAA को पढ़ लें इसमें कहीं पर भी किसी की भी नागरिकता जाने का कोई प्रावधान नहीं है।

कमलनाथ जी जोर-जोर से कहते हैं CAA लागू नहीं होगा। अरे कमलनाथ जी ये जोर से बोलने की आयु नहीं है आपकी, स्वास्थ बिगड़ जाएगा आपका। अगर इतना जोर बाकी है तो मध्य प्रदेश को ठीक करिए।

ये भी पढ़ें: सपा नेता पर ताबड़तोड़ गोलियां: इस दिग्गज को बदमाशों ने उतारा मौत के घाट

बता दें कि सीएए पर भ्रम दूर करने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह जबलपुर पहुंचे। इस दौरान 1947 में पाकिस्तान से आए सिख समुदाय के लोगों ने अमित शाह का स्वागत किया। इससे पहले यहां डुमना विमानतल पर भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह और वरिष्ठ अधिकारियों ने उनकी अगवानी की।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story