Top

कमलनाथ आज देंगे इस्तीफा, फ्लोर टेस्ट से पहले ही गिर जाएगी सरकार!

मध्य प्रदेश का सियासी बवाल अभी तक थमता दिखाई नहीं दे रहा है। पिछले 10 दिनों से मध्य प्रदेश की राजनीति में काफी उथल-पुथल मचा हुआ है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 20 March 2020 3:44 AM GMT

कमलनाथ आज देंगे इस्तीफा, फ्लोर टेस्ट से पहले ही गिर जाएगी सरकार!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश का सियासी बवाल अभी तक थमता दिखाई नहीं दे रहा है। पिछले 10 दिनों से मध्य प्रदेश की राजनीति में काफी उथल-पुथल मचा हुआ है। बता दें कि आज MP के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज यानि शुक्रवार दोपहर 12 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई है। ऐसा माना जा रहा है कि कमलनाथ फ्लोर टेस्ट से पहले इस्तीफा भी दे सकते हैं। सियासी गलियारों में भी इस्तीफा को लेकर हलचल तेजी हो गई है।

बागी 16 विधायकों के इस्तीफे को मिली मंजूरी

इसके अलावा ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक कांग्रेस के सभी बागी 16 विधायकों के इस्तीफे को भी मंजूरी दी जा चुकी है। बता दें कि इससे पहले बागी 6 विधायकों के इस्तीफे स्वीकार किए जा चुके थे। 16 विधायकों के इस्तीफे को लेकर मध्यप्रदेश विधानसभा स्पीकर एनपी प्रजापति ने बताया कि कांग्रेस की बागी 16 विधायकों के इस्तीफे स्वीकार किए जा चुके हैं। सभी 22 विधायकों ने 10 मार्च को सिंधिया के साथ अपना इस्तीफा दिया था।

यह भी पढ़ें: चीन से जुड़े इस देश में नहीं बरपा कोरोना का कहर, ऐसे दी इस महामारी को मात

आज शाम 5 बजे होगा फ्लोर टेस्ट

बहुमत परीक्षण के मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया था। देश की सर्वोच्च अदालत ने कहा कि कल (20 मार्च) मध्य प्रदेश विधानसभा का सत्र फिर से बुलाया जाए। अदालत ने कहा कि कमलनाथ सरकार कल शाम 5 बजे बहुमत हासिल करे। सुप्रीम कोर्ट ने सदन की कार्यवाही का वीडियोग्राफी कराने का आदेश दिया है। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि बागी विधायकों की सुरक्षा सुनिश्चित की जाए।

विधायकों की सुरक्षा सुनिश्चित हो

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि 16 विधायकों पर विधानसभा में आने का कोई दबाव नहीं होगा। अदालत ने कहा कि कर्नाटक और मध्यप्रदेश के पुलिस महानिदेशक बागी विधायकों की सुरक्षा सुनिश्चित करें।

इस्तीफे से दुखी हुए विधानसभा स्पीकर

वहीं कांग्रेस के बागी 16 विधायकों के इस्तीफा स्वीकार करने के बाद विधानसभा स्पीकर एनपी प्रजापति काफी दुखी दिखाई दिए। उन्होंने कहा कि वो बहुत दुखी हैं। आगे कहा कि, उन्होंने भारी मन के साथ विधायकों के इस्तीफे स्वीकार किए हैं, क्योंकि बागी विधायक मेरे खिलाफ कोर्ट में खड़े हो गए हैं। ये लोकतंत्र की बिडंबना है।

यह भी पढ़ें: राशिफल 20 मार्च: मेष,मिथुन को होगा आर्थिक नुकसान, जानिए बाकी का हाल

शिवराज सिंह चौहानका ट्वीट सत्यमेव जयते

सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्विटर पर लिखा, सत्यमेव जयते। इसके बाद उन्होंने प्रेस कांफ्रेस कर कहा कि सत्य की जीत हुई है।



सियासी हलचल हुई तेज

उधर सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले ने भोपाल में सियासी हलचल तेज कर दी है। वहीं मंत्री जीतू पटवारी मुख्यमंत्री कमलनाथ से मिलने उनके आवास पहुंचे थे।

कांग्रेस ने जारी किया व्हिप

बता दें कि मध्यप्रदेश कांग्रेस विधायक दल ने व्हिप जारी करके विधायकों से फ्लोर टेस्ट के दौरान कमलनाथ सरकार का समर्थन करने को कहा।

यह भी पढ़ें: निर्भया केस: कैसे गुजरी दोषियों की आखिरी रात, क्या थी अंतिम इच्छा….

Shreya

Shreya

Next Story