×

मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार जल्द! इन दो नेताओं से मुलाकात के बाद मिले संकेत

दिल्ली विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित होने के बाद केंद्र की मोदी सरकार मंत्रिमंडल के विस्तार की तैयारी शुरु हो चुकी है। बीते बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी से आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने करीब डेढ़ घंटे तक मुलाकात की।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 14 Feb 2020 8:17 AM GMT

मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार जल्द! इन दो नेताओं से मुलाकात के बाद मिले संकेत
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित होने के बाद केंद्र की मोदी सरकार मंत्रिमंडल के विस्तार की तैयारी शुरु हो चुकी है। बीते बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी से आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने करीब डेढ़ घंटे तक मुलाकात की। पीएम मोदी और जगनमोहन रेड्डी की इस मुलाकात के बाद से ही मंत्रिमंडल के पहले विस्तार की हलचल शुरू हो गई है। इसी क्रम में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी बातचीत की गई और उनका मन भी टटोला गया। मिली जानकारी के मुताबिक, बजट सत्र के दूसरे चरण से पहले मंत्रिमंडल का पहला विस्तार हो सकता है।

यह भी पढ़ें: गार्गी कॉलेज छेड़छाड़ मामला: कोर्ट ने आरोपियों को दी जमानत, रखी ये शर्त

बजट सत्र से पहले से चल रहा है विस्तार पर मंथन

सूत्रों के मुताबिक, विस्तार पर मंथन बजट सत्र से पहले से चल रहा है। बताया जा रहा है कि दिल्ली विधानसभा चुनावों के परिणाम आने के बाद गैरकांग्रेस विपक्षी दलों की एकजुटता बढ़ने की संभावनाओं के चलते हलचल तेज हो गई है। सरकार सहयोगियों से तालमेल बैठाने के अलावा राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के अलावा अन्य दलों को साधना चाहती है। वहीं भारतीय जनता पार्टी वाईएसआर (YSR) कांग्रेस को कैबिनेट में शामिल करना चाहती है।

यह भी पढ़ें: देवाशीष पांडा बनाए गए नए वित्त सचिव, इस दिन ग्रहण करेंगे कार्यभार

अगर पार्टी नहीं मानती तो...

वहीं अगर पार्टी नहीं मानती तो उसे लोकसभा डिप्टी स्पीकर का पद मिल सकता है। वहीं अगर जगन मंत्री पद के लिए मान जाते हैं तो नवीन पटनायक की बीजू जनता दल (बीजद) को डिप्टी स्पीकर को मिल सकता है। इससे बीजेपी बीजद के गैरकांग्रेस विपक्षी मोर्चे का हिस्सा होने से रोकने के साथ-साथ राज्यसभा में ताकत भी बढ़ा सकती है। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने बीजेपी के सामने राज्य विधानपरिषद भंग करने की सिफारिश मानने की भी बात रखी थी।

यह भी पढ़ें: भगत सिंह का वैलेंटाइन डे कनेक्शन: सोशल मीडिया पर वायरल ‘फांसी’ की ये है सच्चाई

Shreya

Shreya

Next Story