भ्रष्टाचारियों और कामचोरों की खैर नहीं, मोदी सरकार लेने जा रही बड़ा फैसला

अब ऐसे लोगों की पहचान करने के लिए एक सिस्टम स्थापित करने के आदेश सभी कैडर नियंत्रक अधिकारियों को केंद्र सरकार द्वारा दे दिए गए हैं।

नई दिल्ली: मोदी सरकार अब भ्रष्टाचारी और खराब नौकरशाहों पर हंटर चलाने की तैयारी कर रही है। ऐसी स्थिति में अब जिन सरकारी कर्मचारियों पर आपराधिक या भ्रष्टाचार मामला दर्ज होगा, उसे अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ेगा। मोदी सरकार ने इस दिशा में काम भी शुरू कर दिया है और सरकार ने ऐसे कर्मचारियों की लिस्ट तैयार कर ली है।

यह भी पढ़ें: सावधान! 5 करोड़ भारतीय डिप्रेशन की गिरफ्त में, AI करेगा मदद, जानिए कैसे?

बता दें, मोदी सरकार-2 की शुरुआत के दौरान ही भ्रष्टाचार सहित विभिन्न आरोपों पर कमिश्नर-रैंक के अधिकारियों सहित कम से कम 64 कर्मचारियों को केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) द्वारा अनिवार्य रूप से सेवानिवृत्त कर दिया है। ऐसे में अब कयास लगाए जा रहे हैं कि जल्द ही ऐसा दोबारा होने वाला है।

यह भी पढ़ें: सरकार की बंपर भर्तियां! तुरंत करें आवेदन वरना……..

अब ऐसे लोगों की पहचान करने के लिए एक सिस्टम स्थापित करने के आदेश सभी कैडर नियंत्रक अधिकारियों को केंद्र सरकार द्वारा दे दिए गए हैं। अब सभी कैडर नियंत्रक अधिकारी उनके काम के रिकॉर्ड को पूरी तरह से चेक करेंगे और अगर वो दोषी पाये गए तो उनको रिटायर कर देंगे। वैसे ये पहला मौका नहीं है, जब मोदी सरकार ने ऐसा किया हो।