Top

इंटरनेट बंद करने पर भड़की प्रियंका गांधी, पत्रकारों की गिरफ्तारी का किया विरोध

उत्तर प्रदेश कांग्रेस की संगठन प्रभारी प्रियंका गांधी ने सोशल मीडिया पर बयान जारी कर कहा है कि किसानों की समस्याओं का समाधान करने के बजाय केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार अब दमन पर उतर आई है

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 31 Jan 2021 7:39 AM GMT

इंटरनेट बंद करने पर भड़की प्रियंका गांधी, पत्रकारों की गिरफ्तारी का किया विरोध
X
कांग्रेस को संजीवनी देंने निकली प्रियंका, अब मेरठ की किसान महापंचायत में होंगी शामिल )
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाया है कि वह किसान आंदोलन को कुचलने के लिए दमन से कार्रवाई कर रही है। उन्होंने पत्रकार की गिरफ्तारी और इंटरनेट सेवा बंद करने का भी विरोध किया है।

ये भी पढ़ें:सौरव गांगुली को एंजियोप्लास्टी के बाद अस्पताल से मिली छुट्टी,डॉक्टरों ने दी ये हिदायत

दिल्ली में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है

उत्तर प्रदेश कांग्रेस की संगठन प्रभारी प्रियंका गांधी ने सोशल मीडिया पर बयान जारी कर कहा है कि किसानों की समस्याओं का समाधान करने के बजाय केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार अब दमन पर उतर आई है किसान आंदोलन आंदोलनकारियों को मुकदमों में फंसाया जा रहा है। इसके साथ ही दिल्ली में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। जिससे किसान आंदोलनकारी सूचनाओं का आदान प्रदान न कर सकें किसान आंदोलन और प्रदर्शन की रिपोर्टिंग करने वाले पत्रकारों को भी परेशान किया जा रहा है पत्रकारों की गिरफ्तारी की जा रही है उन पर मुकदमे थोपे जा रहे हैं यह सब बताता है कि भाजपा सरकार हताश हो चुकी है और वह किसान आंदोलन को खत्म करने के लिए तानाशाही वाला तरीका अपना रही है।



पीएम जब खुद किसानों से बात करने के लिए तैयार हैं, तो इसमें देर क्यों हो रही है

उन्होंने कहा कि सरकार को यह समझना चाहिए कि किसान आंदोलन से देश का किसान और हर परिवार जुड़ा हुआ है। इसे सरकारी दमन पूर्ण तरीके से दबाया नहीं जा सकता है। सरकार को तुरंत चाहिए कि वह किसानों से बात करें उनकी समस्याओं का समाधान करें उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जब खुद यह कह रहे हैं कि वह किसानों से बात करने के लिए तैयार हैं, तो इसमें देर क्यों हो रही है।

ये भी पढ़ें:Flipkart Quiz: ग्राहकों के लिए शानदार मौका, 5 सवालों के दें जवाब, जीते ढेरो इनाम

किसान आंदोलन कवर कर रहे पत्रकारों को गिरफ्तार किया जा रहा है, उनपर मुकदमें किए जा रहे हैं। कई जगहों पर इंटरनेट बंद कर दिया है। भाजपा सरकार किसानों की आवाज को कुचलना चाहती है लेकिन वे भूल गए हैं कि जितना दबाओगे उससे ज्यादा आवाजें आपके अत्याचार के खिलाफ उठेंगी। #ReleaseMandeepPunia

रिपोर्ट- अखिलेश तिवारी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story