निलंबित सांसदों के साथ राहुल गांधी का हल्लाबोल, संसद भवन में कांग्रेसियों का हंगामा

संसद की कार्रवाई के बीच निलंबित कांग्रेस सांसद प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं उनके साथ कांग्रेस नेता और पूर्व पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी भी इस मौके पर मौजूद हैं। 

Rahul gandhi protest with 7 Congress Suspended MP in Parliament

दिल्ली: बजट सत्र के दौरान संसद में विपक्षियों के हंगामे के बाद पीठासीन सभापति ने मीनाक्षी लेखी ने कांग्रेस के साथ सात सांसदों को पूरे सत्र के लिए निलंबित कर दिया। इसी कड़ी में शुक्रवार को सदन की कार्रवाई के बीच संसद परिसर में निलंबित कांग्रेस सांसद प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं उनके साथ कांग्रेस नेता और पूर्व पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी भी इस मौके पर मौजूद हैं।

Updates:

-सदन की कार्रवाई शुरू होते ही विपक्षियों ने हंगामा शुरू कर दिया, जिसके बाद सदन दो बजे के लिए स्थगित कर दिया। वहीं बाद में राजसभा की कार्यवाही 11 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी गयी है।

-संसद में लगातार हो रहे हंगामे को लेकर संसदीय कार्य मंत्री ने कड़ी निंदा की है। उन्होंने कहा कि सदन में इस तरह की अनुशासनहीनता बर्दास्त नहीं की जायेगी। 2 मार्च से 5 मार्च का बीच हुए हंगामे की जाँच होगी। इसके लिए एक कमेटी बनाई जाएगी, जिसमें स्पीकर भी शामिल होंगे। बवाल करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

7 सांसद पूरे सत्र के लिए निलंबित

बता दें कि गुरूवार को सदन की कार्रवाई के दौरान कांग्रेस सांसदों के हंगामे को देखते ही सभापति ने अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए सात सांसद को लोकसभा के इस सत्र से निलंबित कर दिया। पिठासीन सभापति मीनाक्षी लेखी ने कांग्रेस के गौरव गोगोई समेत 7 सांसदों को पूरे सत्र के लिए निलंबित कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें: आजम खान की हालत खराब! टॉयलेट के लिए भी नहीं मिली मोहलत

पीठासीन सभापति मीनाक्षी लेखी का कांग्रेस सांसदों पर एक्शन:

लोकसभा की कार्यवाही दोबारा शुरू होने के बाद पीठासीन सभापति मीनाक्षी लेखी ने कहा कि सदन में जब मत संख्या 13 तथा 14 पर चर्चा की शुरुआत हुई तब कुछ सदस्यों ने सभा की कार्यवाही से संबंधित कागज अध्यक्ष पीठ से छीन लिए और उछाले गए।

सदन में हंगामे को लेकर इन सांसदों को किया गया निलंबित:

संसदीय इतिहास में ऐसा दुर्भाग्यपूर्ण आचरण संभवत पहली बार हुआ है। उन्होंने सांसदों के इस आचरण की निंदा की। स्पीकर ने गौरव गोगोई, टीएन प्रतापन, राजमोहन उन्नीथन, मणिकम टैगोर, बेनी बेहन,डीन कुरीकोस, गुरजीत सिंह को निलंबित किया। इसके बाद स्पीकर ने सदन की कार्यवाही को शुक्रवार 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया।

ये भी पढ़ें: अब कभी नहीं करेंगे दंगा! योगी सरकार के इस एक्शन से मचा हाहाकार

निलंबन पर बोले अधीर रंजन

कांग्रेस सांसदों के निलंबन पर अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि ये स्पीकर का फैसला नहीं है। ये सरकार का फैसला है। हम झुकेंगे नहीं। सरकार के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी। सरकार के खिलाफ पूरा विपक्ष एकसाथ है। पिछले दो दिन से स्पीकर ओम बिड़ला सदन से नहीं आए हैं।

मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी

लोकसभा की कार्यवाही दोबारा शुरू हो गई। विपक्ष के सांसदों ने मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। सांसदों ने मोदी सरकार हाय-हाय के नारे लगाए। हंगामे के कारण सभापति ने सदन की कार्यवाही को 3 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया।

ये भी पढ़ें: कोरोना के मरीजों की संख्या हुई 31, इस देश के लिए स्पेशल फ्लाइट्स भरेंगी उड़ान

parliament

हनुमान बेनीवाल के बयान पर हंगामा

राजस्थान से सांसद हनुमान बेनीवाल ने कहा कि कोरोना वायरस के 29 मरीज सामने आए हैं, ज्यादातर इटली से आए हैं मरीज। सोनिया गांधी और राहुल गांधी और उनके घर की भी जांच करानी चाहिए। सभापति ने उनके इस बयान पर आपत्ति जताई और कार्यवाही से निकालने का निर्देश दिया। सांसद बेनीवाल ने कहा कि गांधी परिवार की जांच होनी चाहिए कि कहीं ये लोग कोरोना से पीड़ित तो नहीं हैं। उनके इस बयान पर हंगामा हो गया और सभापति को सदन की कार्यवाही को 2 बजे तक के लिए स्थगित करना पड़ा।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।