Top

कमजोर होती अर्थव्यवस्था पर सही स्थिति जनता के सामने लाना चाहिए: शरद यादव

पत्रकार वार्ता में शरद यादव ने कहा कि आर्थिक तौर पर देश बहुत विकट परिस्थिति में है। नोटबंदी और जीएसटी के चलते हैं आज पूरे देश का व्यापार ठप पड़ा है।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 30 Aug 2019 5:00 PM GMT

कमजोर होती अर्थव्यवस्था पर सही स्थिति जनता के सामने लाना चाहिए: शरद यादव
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव ने देश की कमजोर होती अर्थव्यवस्था पर केन्द्र सरकार को कहा कि सही स्थिति जनता के सामने लाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि केन्द्र की जनता को झूठे सपने दिखा रही है। शरद यादव ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 खत्म करने का लाभ मुझे तो नहीं दिख रहा है। नरेंद्र मोदी सरकार का यह फैसला समझ से परे है।

आज यहां प्रेस क्लब में पत्रकार वार्ता में शरद यादव ने कहा कि आर्थिक तौर पर देश बहुत विकट परिस्थिति में है। नोटबंदी और जीएसटी के चलते हैं आज पूरे देश का व्यापार ठप पड़ा है।

ये भी पढ़ें...भगवतीचरण वर्मा की जयंती: चित्रलेखा कहानी किसकी भाग्य लक्ष्मी बन गई?

आर्थिक मामले में तो बांग्लादेश भी आज हमसे आगे हो गया है। मंदी के कारण ऑटोमोबाइल सेक्टर पर भी बुरी तरह से असर पड़ा है। लाखों कर्मचारियों को निकाल दिया गया। कई शो रूम बंद कर दिए गए है। करोड़ों लोग बेरोजगार हो चुके है। देश पांच नंबर पर था अब छह नंबर पर आ गया है।

उन्होंने उत्तर प्रदेश के बारे में कहा कि कानून व्यवस्था के मामले में यूपी की हालत बेहद खराब है। माब लिंचिग के कारण यूपी की हालत आज कश्मीर से भी बदतर है।

ये भी पढ़ें...धरी रह गई बसपा पार्षद की दबंगई, केस दर्ज, जानें क्या है ये पूरा मामला

मीडिया को दबाने का काम किया जा रहा है

कभी माब लिचिंग तो कभी बच्चा चोरी के नाम पर हत्याएं हो रही हैं। मीडिया को दबाने का काम किया जा रहा है। वह देश की समस्याएं न दिखाने की स्थिति में है। मीडिया अपोजीशन की आलोचना कर रहा है। अपोजिशन के हाथ में जबकि कुछ भी नहीं है।

पूर्व र्केन्द्रीय मंत्री शरद यादव ने कहा कि कश्मीर के राज्यपाल ने ही द राहुल गांधी को काश्मीर बुलाया था मगर सरकार ने विपक्ष को वहां जाने ही नहीं दिया गया। हम लोग वहां जाते तो सरकार की मदद ही करते।

यह तो देश की सुरक्षा के साथ बड़ा खिलवाड़ है। इसके कारण ही पड़ोसी ही हमारे दुश्मन हो गए हैं। यह देश बहुत कुर्बानियों के बाद हमारे हाथ लगा है। भाजपा तो लड़ाई-झगड़े कराओ और जीतो की राजनीति करती है। वह इसमें सफल भी हो रही है।

ये भी पढ़ें...ऐसा क्या कहा राज्यपाल आनन्दीबेन ने? बच्चों का उत्साह हो गया दोगुना

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story