Top

PM मोदी के भाषणों की मदद से नीतीश पर निशाना साध रहा है राजद

बिहार विधानसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दोहरी भूमिका नजर आ रही है। राष्‍ट्रीय जनता दल ने बड़ी ही चालाकी से मोदी के भाषणों का अपने पक्ष में इस्‍तेमाल शुरू कर दिया है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 31 Oct 2020 5:01 AM GMT

PM मोदी के भाषणों की मदद से नीतीश पर निशाना साध रहा है राजद
X
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दोहरी भूमिका नजर आ रही है। राष्‍ट्रीय जनता दल ने बड़ी ही चालाकी से मोदी के भाषणों का अपने पक्ष में इस्‍तेमाल शुरू कर दिया है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव प्रचार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही राजग और राजद दोनों के लिए प्रचार करते दिखाई दे रहे हैं। नीतिश के समर्थन में प्रधानमंत्री की रैलियां हो रही हैं तो नीतिश के विरोध में भी नरेंद्र मोदी की ही आवाज गूंज रही है। अंतर केवल इतना है कि पांच साल पहले बिहार विधानसभा चुनाव प्रचार में मोदी का भाषण अब राजद की ओर से सुनाया जा रहा है।

बिहार विधानसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दोहरी भूमिका नजर आ रही है। राष्‍ट्रीय जनता दल ने बड़ी ही चालाकी से मोदी के भाषणों का अपने पक्ष में इस्‍तेमाल शुरू कर दिया है। पहले सोशल मीडिया और अब डिजिटल माध्‍यम से मोदी के चुनावी भाषणों को लोगों तक पहुंचाया जा रहा है। राष्‍ट्रीय जनता दल ने एक दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक पुराना भाषण अपने टिवटर हैंडिल से जारी किया है जिसमें वह नीतिश सरकार के भ्रष्‍टाचार की निंदा कर रहे हैं।

यह भाषण पांच साल पुराना है जब बिहार विधानसभा चुनाव में राजद और जदयू ने मिलकर भाजपा के खिलाफ लडाई की थी। तब भाजपा की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में चुनावी सभाओं को संबोधित किया था और सुशासन बाबू नीतिश कुमार पर भ्रष्‍टाचार के जमकर आरोप लगाए थे। बिहार में तब एक के बाद एक नए घोटाले भी उजागर हुए थे। प्रधानमंत्री मोदी अपनी सभा में नीतिश सरकार के घोटाले बारी से बारी गिनाते हुए दिखाई दे रहे हैं।

Nitish Kumar

ये भी पढ़ें...तुर्की में भारी तबाही, भीषण भूकंप से आयी सुनामी, मचा हाहाकार

इस वीडियो को आधार बनाकर राजद ने लिखा है कि- आदरणीय नीतीश जी के शासनकाल में अब तक 30 हज़ार करोड़ के 60 बड़े घोटाले हुए है इनमें से 33 तो माननीय प्रधानमंत्री जी आज से 5 वर्ष पूर्व स्वयं गिना रहे थे। खुद सुनिए.. उसके बाद सृजन घोटाला, धान घोटाला, शौचालय घोटाला, छात्रवृति घोटाले सहित हज़ारों करोड़ के अन्य घोटाले हुए है।

[video width="1280" height="720" mp4="https://newstrack.com/wp-content/uploads/2020/10/आदरणीय-नीतीश-जी-के-श...TUUVb1_.mp4"][/video]

ये भी पढ़ें...सरदार पटेल की जयंती: PM मोदी ने दी श्रद्धांजलि, राष्ट्रीय एकता दिवस पर भव्य परेड

वीडियो में क्‍या है

राजद ने पांच साल पुराना जो वीडियो जारी किया है इसमें एक चुनावी सभा में प्रधानमंत्री कह रहे हैं कि बिहार की जनता जानती है लेकिन नई पीढी को मैं याद दिलाना चाहता हूं , जरा याद कीजिए - अलकतरा घोटाला, दवाई खरीद घोटाला, ट्रांसफार्मर खरीद घोटाला , एस्‍टीमेट घोटाला, इंजीनियरिंग कॉलेज नॉमनिशेन घोटाला, फर्टिलाइजर सब्सिडी घोटाला, मस्‍टररोल घोटाला, राशन किरासिन घोटाला, शराब घोटाला , शौचालय घोटाला, व्‍याख्‍याता निय‍ुक्ति घोटाला ,सिपाही नियुक्ति घोटाला,नलकूप घोटाला,इंदिरा आवास घोटाला, मनरेगा घोटाला, कोशी चैनल निर्माण घोटाला,मिड डे मी‍ल घोटाला, आंगनबाडी घोटाला, कुलपति नियुक्ति घोटाला, पथ निर्माण घोटाला, मेधा घोटाला, पुल निर्माण घोटाला, शिक्षा अभियान घोटाला, टेक्‍स्‍ट बुक सप्‍लाई घोटाला,कंबल खरीद घोटाला, परिवहन घोटाला, वायरलेस बैटरी घोटाला, बियाडा जमीन घोटाला, बुध स्‍मृति पार्क निर्माण घोटाला,चावल घोटाला, ट्रॉलर डबल पे घोटाला, रेलवे घोटाला।

Tejashawi Yadav

ये भी पढ़ें...राष्ट्रपति शी जिनपिंग का बड़ा प्लान: अब आया सबके सामने, चीन में हलचल हुई तेज

राजद की ओर से प्रधानमंत्री मोदी के पुराने भाषणों को जारी करने पर सोशल रिसर्चर आलोक कुमार कहते हैं कि बिहार विधानसभा चुनाव बेहद दिलचस्‍प मोड पर है जहां पक्ष और विपक्ष दोनों के प्रत्‍याशियों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ही भाषणों का सहारा है। राजद की इस कवायद का मकसद हालांकि नरेंद्र मोदी की विश्‍वसनीयता को कम करना भी है। इसका कितना असर चुनाव पर पडेगा इसके लिए मतदाताओं के फैसले का इंतजार करना पड़ेगा।

अखिलेश तिवारी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story