×

ऐसे-कैसे बनेगी सरकार: कांग्रेस ने बाला साहब के पुण्य तिथि को किया इग्नोर

एनसीपी और कांग्रेस महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना के साथ गठबंधन करने की कोशिशों में जुटी है। वहीं एनसीपी के कई नेता भी श्रद्धा सुमन अर्पित करने पहुंचे लेकिन इस बीच कांग्रेस ने न तो ट्वीट किया और न ही वहां पहुंचे। अब इससे तो साफ जाहिर है कि तीनों दल का गठबंधन कैसे संभव हो पाएगा ये साफ नहीं हो पा रहा है।

Shivakant Shukla
Updated on: 17 Nov 2019 8:46 AM GMT
ऐसे-कैसे बनेगी सरकार: कांग्रेस ने बाला साहब के पुण्य तिथि को किया इग्नोर
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मुंबई: शिवसेना के संस्थापक बाला साहब ठाकरे की आज सातवीं पुण्य तिथि है। इस मौके पर शिवाजी मैदान में स्मृति स्थल पर श्रद्वांजलि अर्पित करने करने उद्धव ठाकरे समेत कई नेता पहुंचे। बाला साहब को श्रद्धा सुमन अर्पित करने एनसीपी नेता छगन भुजबल और एनसीपी के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल बाला ठाकरे की स्मृति स्थल पर पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि दी है

देवेंद्र फडणवीस भी दिए श्रद्धांजलि

महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस भी बाला साहेब को श्रद्धांजलि देने के लिए शिवाजी पार्क पहुंचे। बाल ठाकरे को श्रद्धांजलि देकर जब देवेंद्र फडणवीस लौट रहे थे, उस दौरान वहां मौजूद शिवसैनिकों ने नारेबाजी शुरू कर दी। शिवसैनिक यहां नारे लगाने लगे किसकी सरकार, शिवसेना की सरकार।

बाला साहब की इच्छा और शिवसेना का वचन पूरा होगा: संजय राउत

इस मौके पर शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि बाला साहब की इच्छा और शिवसेना का वचन पूरा होगा। महाराष्ट्र में शिवसेना का मुख्यमंत्री बनेगा।

ये भी पढ़ें— शिवसेना की उम्मीदों पर फिरा पानी, कांग्रेस-NCP ने दिया जोर का झटका

बता दें कि आज बाला साहब की सातवीं पुण्यतिथि है। इस मौके पर प्रदेश भर से लोग यहां पहुंचकर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित कर रहे हैं। राजनीतिक जानकारों का मानना है कि यह एक अच्छा मौका है, अगर बीजेपी के नेता समाधि स्थल पर जाते हैं तो शिवसेना और बीजेपी के बीच तल्खी कुछ कम हो सकती है।

देवेंद्र फणनवीस ने किया ट्वीट

लेकिन ऐसा देखने को नहीं मिल रहा है , फिलहाल बीजेपी के कोई नेता वहां तो नहीं पहुंचे लेकिन ट्विटर पर नमन किया। इस क्रम में सबसे पहले पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फणनवीस ने ट्वीट किया।

वहीं ​एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने भी टवीट करके श्रद्वा सुमन को याद है।

ये भी पढ़ें—किंगमेकर थे बाला साहेब,आवाम का था बेहिसाब साथ, कभी नहीं लिया सत्ता का स्वाद

फडणवीस को शिवसेना का जवाब

फडणवीस के इस ट्वीट पर शिवसेना नेता सचिन अहीर ने कहा है कि उन्होंने आज भले ही सम्मान जताया हो, लेकिन उन्हें अपने कर्मों से भी ऐसा करना चाहिए था। सचिन अहीर ने कहा कि अब हम बहुत दूर निकल आए हैं।

एनसीपी और कांग्रेस महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना के साथ गठबंधन करने की कोशिशों में जुटी है। वहीं एनसीपी के कई नेता भी श्रद्धा सुमन अर्पित करने पहुंचे लेकिन इस बीच कांग्रेस के बड़े नेताओं ने न तो ट्वीट किया और न ही वहां पहुंचे। अब इससे तो साफ जाहिर है कि तीनों दल का गठबंधन कैसे संभव हो पाएगा ये साफ नहीं हो पा रहा है।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story