Top

आखिर सीएम योगी ने क्यों कहा- ईश्वर हम सब की परीक्षा ले रहा था? यहां जानें

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, शारदीय नवरात्र के अवसर पर मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की पावन कथा शिवस्वरूप महायोगी बाबा गोरखनाथ की पुण्य भूमि पर गोरखपुर के श्रद्धालुजनों पर अपनी विशेष कृपा बरसाने के लिए मोरारी बापू यहां पधारे हैं।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 5 Oct 2019 2:01 PM GMT

आखिर सीएम योगी ने क्यों कहा- ईश्वर हम सब की परीक्षा ले रहा था? यहां जानें
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोरखपुर: सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, शारदीय नवरात्र के अवसर पर मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की पावन कथा शिवस्वरूप महायोगी बाबा गोरखनाथ की पुण्य भूमि पर गोरखपुर के श्रद्धालुजनों पर अपनी विशेष कृपा बरसाने के लिए मोरारी बापू यहां पधारे हैं।

यहां पर उपस्थित व्यासपीठ पर विराजमान सम्मानीय श्री राम कथा के विश्व प्रसिद्ध मर्मज्ञ जिन्होंने भगवान श्री राम की कथा को पूरी दुनिया में घर-घर तक पहुंचाने में महती योगदान दिया है।

ऐसे पूज्य व्यासपीठ पर विराजमान में मोरारी बापू का हृदय से स्वागत करता हूं। सबसे पहले शारदीय नवरात्र के अवसर पर पूरे उत्तर प्रदेश में उनका आगमन हुआ है। खासकर उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में हुआ।

ये भी पढ़ें...गांधी दर्शन के मूल्यों को समझना होगा: सीएम योगी आदित्यनाथ

ईश्वर भी हम सब की परीक्षा ले रहा था: सीएम योगी

आपका हृदय से स्वागत अभिनंदन करता हूं। बापू ने बड़ी कृपा की है कि वे शारदीय नवरात्र के अवसर पर गोरखपुर को उन्होंने विशेष रूप से चयन करते हुए इस कथा के श्रवण का आनंद गोरखपुर के श्रद्धालुओं को प्राप्त हो। एक वर्ष पूर्व ही उनका यह संकल्प था।

बहुत दिनों से पूज्य बापू इस बात को बोलते थे कि एक बार बाबा गोरक्षनाथ जी को मैं भगवान श्रीराम के इस कथा को कथा सुनाना चाहता हूं। हम सब सौभाग्यशाली हैं कि यह अवसर प्राप्त हुआ है।

3 दिन तक मैं खुद ही गोरखपुर के मौसम से चिंतित था और आयोजन से जुड़े पदाधिकारियों से अपनी चिंता से अवगत कराया कि वास्तव में मौसम इतना विपरीत है और यह 15 दिन से लगातार विपरीत चल रहा था बापू की कथा कैसे संभव होगी?

लेकिन लगता है कि ईश्वर भी हम सब की परीक्षा ले रहा था। कल से यहां पर मौसम बहुत अच्छा हुआ है। बापू के आगमन के साथ ही मौसम भी अच्छा हो गया है। अब आगे की कथा भी इसी रूप में उनकी कृपा हम सब पर बरसेगी।

ये भी पढ़ें...आयुष्मान योजना की प्रथम वर्षगांठ पर सीएम योगी ने लाभार्थियों से की मुलाकात

श्रीराम के जीवन से जुड़े प्रसंग से हम लोगों को समाधान प्राप्त होता है: योगी

हम सब जानते हैं कि भारत की परंपरा सनातन हिंदू धर्म की परंपरा भगवान विष्णु के 3 अवतारों पर विश्वास करती हैं। प्रभु श्रीराम अवतारों के उन परंपराओं में मर्यादा के साक्षात आदर्श थे। हम लोग जीवन में कभी भी कोई समस्या आती है तो भगवान श्रीराम के जीवन से जुड़े प्रसंग से हम लोगों को समाधान प्राप्त होता है।

भगवान श्रीराम हम लोगों के सांसो में बसे हुए हैं। आने वाले समय में हम लोगों को बहुत अच्छी खुशखबरी सुनने को प्राप्त होगी. (अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्णय की ओर संकेत) मंगलमय शुभकामना देते हुए हृदय से अभिनंदन करता हूं। जय श्री राम।

ये भी पढ़ें...सीएम योगी ने की घोषणा, इस तारीख को शुरू होगी कन्या सुमंगल योजना

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story