Top

चुनौतियों को अवसर में बदलकर विकास की गंगा बहाई

seema

seemaBy seema

Published on 20 Sep 2019 7:19 AM GMT

चुनौतियों को अवसर में बदलकर विकास की गंगा बहाई
X
चुनौतियों को अवसर में बदलकर विकास गंगा बहाई
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : प्रदेश में ढाई साल का कार्यकाल पूरा होने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ढाई वर्ष पहले बहुत चुनौतियां थीं, लेकिन हमने उन्हीं चुनौतियों को अवसर में बदलने का काम किया है। यूपी को पहचान के संकट से बाहर निकालने का काम किया है। हमने विकास और सुशासन के 30 माह पूरे कर लिए हैं। ढाई साल के कार्यकाल में प्रदेश सरकार ने कई मोर्चों पर बेहतरीन काम किया है। केन्द्रीय योजनाओं के क्रियान्वयन में देश के पैमाने पर प्रदेश सरकार ने रिकॉर्ड बनाया है। सौभाग्य योजना, प्रधानमंत्री किसान सम्मान, स्वच्छता अभियान, शौचालय निर्माण, प्रधानमंत्री आवास जैसी कई योजनाएं हैं जिसमें उत्तर प्रदेश ने नए कीर्तिमान स्थापित किए हैं।

यह भी पढ़ें : एक साल के भीतर सभी विकास प्राधिकरण, बनायें जोनल प्लान

कई मोर्चों पर किया बेहतर काम

इसके अलावा इंसेफेलाइटिस, डेंगू, मलेरिया जैसी बीमारियों पर अंकुश लगाने में भी सरकार को बड़ी कामयाबी मिली है। राज्य सरकार ने उपचार से अधिक बचाव पर जोर देकर बीमारियों पर काबू पाने का जो तरीका आजमाया, वह सफल रहा है। सीएम अध्यापक पुरस्कार, व्यापारी कल्याण बोर्ड, सामूहिक विवाह, सुपोषण से लेकर कन्या सुमंगला तक तथा गांव-किसान कल्याण, कर्जमाफी, पीएम किसान सम्मान निधि में सर्वाधिक भागीदारी, गन्ना मूल्य का रिकॉर्ड भुगतान, गेहूं, धान, मक्का, दलहन, तिलहन की रिकॉर्ड खरीद, उज्जवला, बिजली की बेहतर आपूर्ति से लेकर राशन वितरण तक पर सरकार ने बेहतर काम करके दिखाया है।

किसानों को बदहाली से उबारा

अपने सरकारी आवास पर आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जब हमारी सरकार आई तो किसान बदहाल था, लेकिन ढाई वर्ष में हमने प्रदेश को पहचान के संकट से उबारने का काम किया है। सरकार गठन के बाद अपनी पहली ही कैबिनेट में फैसला करके किसानों का ऋण माफ किया जिसकी अनेक प्रदेशों ने नकल की है। हमारी सरकार ने किसानों के लिए कई कल्याणकारी कार्य किए हैं। एक करोड़ 57 लाख से अधिक किसानों को 'किसान सम्मान निधि' का लाभ मिला है। इस योजना में यूपी प्रदेश मे नम्बर एक राज्य बना है।

यह भी पढ़ें : महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा-शिवसेना में सीट बंटवारे को लेकर घमासान

इन क्षेत्रों में मिली बड़ी कामयाबी

मुख्यमंत्री समग्र ग्राम योजना के तहत किसानों को बिजली कनेक्शन की सुविधा दी गई।

स्कूलों में 50 लाख नए बच्चों का नामांकन हुआ। साथ ही एनसीईआरटी पाठ्यक्रम भी लागू किया।

193 राजकीय इंटर कालेज, 51 डिग्री कालेज, दो विश्वविद्यालय, 34 पालीटेक्निक व चार इंजीनियरिंग कॉलेज खोले गए।

86 लाख किसानों के कर्ज को माफ करने का काम किया। आठ लंबित सिंचाई परियोजनाओं को पूरा किया।

पीएम किसान सम्मान निधि के तहत यूपी में सबसे ज्यादा 1.57 करोड़ किसानों को लाभ मिला।

73000 करोड़ रुपये का गन्ना मूल्य भुगतान किया गया और ड्रिप एरीगेशन में 50 लाख किसानों को लाभ दिया।

कानून व्यवस्था सुधारने की पहल

मुख्यमंत्री ने कहा कि कानून व्यवस्था को लेकर प्रदेश की हालत बेहद चिंताजनक थी। इसलिए हमने कानून व्यवस्था सुधारनेे के लिए प्रदेश में कई काम किए। पुलिस सुधार पर खूब काम हुआ है। प्रदेश में पुलिस की 54 कंपनियों को बहाल किया गया है। नए पुलिस मुख्यालय की स्थापना की गयी। आईजीआरएस और एंटी करप्शन पोर्टल शुरू करने के साथ ही दो लाख पुलिस कर्मियों की भर्ती शुरू की, जिसमें 73000 नियुक्तियां हुईं। भाजपा सरकार आने के बाद प्रदेश में अपराधों में कमी आई है।

निवेश और रोजगार

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में बेरोजगारी एक बड़ी समस्या रही है। हमारी सरकार आने के बाद 20 लाख नौजवानों की नौकरी का रास्ता खुला है। इन्वेस्टर्स समिट से 20 लाख नौजवानों के रोजगार के रास्ते खुले हैं। एमएसएमई से स्वाबलंबन बढ़ा और ओडीओपी ने नए द्वार खोले हैं। जल्द ही डिफेंस कॉरीडोर में 20 से 25000 करोड़ रुपये का निवेश होगा। इसमें भी रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। ओडीओपी के तहत 25 लाख लोगों को नौकरी व रोजगार देने का काम किया। अगस्त 2020 तक पूर्वांचल एक्सप्रेस शुरू हो जाएगा। मेरठ से प्रयागराज तक ये देश का सबसे बड़ा एक्सप्रेस वे होगा।

इंसेफलाइटिस पर काबू पाया

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार के प्रयासों से इंसेफलाइटिस जैसी बीमारी में 65 प्रतिशत कमी आई है। आजादी से अब तक कुल 12 मेडिकल कालेज बने थे। हमारी सरकार में 15 नए मेडिकल कालेज बन रहे हैं। 7 मेडिकल कालेजों में एडमिशन शुरू हो गया है। पहली बार दवाओं के लिए मेडिकल कारपोरेशन की स्थापना की गयी है।

शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ी

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारी स्कूलों में बच्चों की संख्या बढ़ी है और माध्यमिक और उच्च शिक्षा की स्थिति में बदलाव हुआ है। पूरे प्रदेश में स्कूल कालेजों में नकल बंद हुई है जिसके कारण शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ी है। उपलब्धियां गिनाते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि खनन राजस्व 1500 करोड़ रुपये से बढ़कर 4000 करोड़ हो गया है। प्रदेश का राजकोषीय घाटा पहले जीडीपी का 3.30 फीसदी था जो हमारी सरकार में 2.97 प्रतिशत हो गया है। उन्होंने कहा कि कन्या सुमंगला योजना में बच्चियों की आर्थिक मदद दी जाएगी। इसमें अल्पसंख्यक वर्ग की निर्धन बालिकाओं की मदद होगी। सरकार ने समाज की वंचित जातियों के लिए नई योजनाएं शुरू की हैं। इसके अलावा 10 हजार से अधिक गरीब कन्याओं की शादी में मदद करने का काम राज्य सरकार ने किया है।

कई परियोजनाओं पर काम जारी

धर्मार्थ और पर्यटन के क्षेत्र में कैलाश मानसरोवर जाने वाले तीर्थयात्रियों के लिए गाजियाबाद में भवन निर्माण का काम जारी है। वाराणसी में वैदिक सांइस सेंटर की स्थापना की जा रही है। यहां वेद पर अनुसंधान के लिए कोर्स चलाए जाएंगे। काशी विश्वनाथ विस्तारीकरण योजना के तहत इसका क्षेत्र बढ़ाने का काम किया गया है। अयोध्या में दीपोत्सव कार्यक्रम लगातार दो बार सफलतापूर्वक कराया जा चुका है। मगहर में संतकबीर अकादमी की स्थापना की जा चुकी है। उत्तराखंड अलग होने के बाद यूपी का वन क्षेत्र कम हुआ है। इस साल 22 करोड़ नए पौधे लगाए जाने की योजना है। सबको आवास सुविधा दिए जाने की योजना के तहत योगी सरकार 2. 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने का काम कर रही है। इसी तरह परिवहन के क्षेत्र में दूसरे राज्यों से जोडऩे के लिए कई राज्यों से समझौते हुए हैं। अयोध्या से जनकपुर नेपाल की बस सेवा का शुभारंभ हो चुका है।

seema

seema

सीमा शर्मा लगभग ०६ वर्षों से डिजाइनिंग वर्क कर रही हैं। प्रिटिंग प्रेस में २ वर्ष का अनुभव। 'निष्पक्ष प्रतिदिनÓ हिन्दी दैनिक में दो साल पेज मेकिंग का कार्य किया। श्रीटाइम्स में साप्ताहिक मैगजीन में डिजाइन के पद पर दो साल तक कार्य किया। इसके अलावा जॉब वर्क का अनुभव है।

Next Story