खुलासा: लंबे समय तक कपल्स में रहेगा प्यार, बस एक बिस्तर पर साथ ना सोए आप

इसके अलावा उन्होंने कहा कि लम्बे समय तक ऐसा रहने पर वजन में वृद्धि होती है और टाइप 2 डायबिटीज और डिप्रेशन भी हो सकता है। इसलिए अलग सोए।

Published by suman Published: October 14, 2020 | 9:37 am
relation

सोशल मीडिया से फोटो

लखनऊ पति- पत्नी का रिश्ता बहुत खास होता है या  फिर कहे किसी भी पार्टनर का रिश्ता एक-दूसरे से बना होता है। दोनों एक दूजे पर  निर्भर रहते है। साथ खाना, पहनना घूमना और साथ में ही सोना ऐसा होता है जब आप किसी के साथ रिलेशनशिप में होते है। आजकल जितने जल्दी रिश्ते बनते हैं उतनी जल्दी टूटते भी है इसकी कई वजहे होती है।  जो वैवाहिक संघर्ष का संकेत देते है ।

अलग-अलग सोए प्यार बरकरार रखें

बेहतर स्वास्थ्य और सुखी रिलेशनशिप की कुंजी है। ऐसा एक रिसर्च में सामने आया है। मैट्रेस कम्पनी द्वारा किये गए सर्वें  ये बात सामने आई है। 6 जोड़ों में एक जोड़े ने अलग-अलग सोने का निर्णय लिया। उनमें कोई झगड़ा था, बल्कि उन्हें एक अच्छी नींद की जरूरत थी। नींद पर 35 सालों से रिसर्च कर रहे डॉक्टर नील स्टानले ने  कहा कि मैं अलग-अलग बिस्तर की वकालत करने वाला विश्व का सबसे बड़ा वकील हूं।

यह पढ़ें…तूफान का कहर: इन राज्यों में दो दिन होगी भागी बारिश, IMD का अलर्ट

जब कपल्स साथ सोते है तो एक पार्टनर करवट लेता है, तो दूसरे पार्टनर में भी ऐसा होता है। डॉक्टर स्टानले के अनुसार नींद का तीसरा हिस्सा पार्टनर की वजह से खराब होता है। ऐसे में नींद प्रभावित होती है और जो शारीरिक सेहत को बिगाड़ सकती है। इससे  रिलेशनशिप पर भी असर पड़ता है। एक अन्य रिसर्च में भी सामने आया कि जो लोग कम सोते हैं उनके तलाक ज्यादा हुए हैं।

 

relation
सोशल मीडिया से फोटो

 

कम सोने से नुकसान

डॉक्टर स्टानले ने कम सोने से होने वाले नुकसान के बारे में बताया कि इससे आपका प्रदर्शन, रिलेशनशिप, दुर्घटना का जोखिम बढ़ता है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि लम्बे समय तक ऐसा रहने पर वजन में वृद्धि होती है और टाइप 2 डायबिटीज और डिप्रेशन भी हो सकता है। नींद सुखी जीवन के लिए बहुत जरूरी होता है ।

 

यह पढ़ें…अनूप जलोटा बने हनी सिंह: जसलीन के साथ ऐसे आए नजर, देख हर कोई रह गया दंग

 

relation
सोशल मीडिया से फोटो

 इससे मजबूत होता है रिश्ता

इस साल की शुरुआत में एक किताब पब्लिश हुई जिसमें भी नींद के बारे में कहा गया था कि बिस्तर शेयर करने का मतलब यह नहीं था कि लोग ऐसा करने के लिए तैयार है। अपर क्लास समाज में लोग रिश्तों को लम्बे समय तक बनाए रखने के लिए अलग-अलग बेडरूम का इस्तेमाल करते हैं। ऐसा रिश्तों को मजबूती देने के अलावा नींद में बाधा से बचने के लिए भी किया जाता है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App