साइलेंट किलर ने की स्मार्ट अनामिका की हत्या, ऐसे हुआ सोशल मीडिया रिवेंज का खुलासा

हत्या के इस हैरतअंगेज मामले का खुलासा हुआ तो पुलिस की टीम भी हैरान रह गई क्योंकि वारदात को अंजाम एक सोशल मीडिया फ्रेंड द्वारा दिया गया था। पुलिस ने आरोपी साइलेंट किलर को गिरफ्तार कर लिया है।

सोशल मीडिया

ये कहानी है सोशल मीडिया की फंतासी, प्रेम, सेक्स और रिवेंज में उलझते समाज की। जिसमें एक उच्चाधिकारी की पत्नी स्मार्ट अनामिका बनकर फंतासी दुनिया में खो जाती है और अपनी नकली पहचान में जीने लगती है। लेकिन जब इसका खुलासा होता है तो, अंजाम खुद उसकी मौत के रूप में सामने आता है।

हत्या के इस हैरतअंगेज मामले का खुलासा हुआ तो पुलिस की टीम भी हैरान रह गई क्योंकि वारदात को अंजाम एक सोशल मीडिया फ्रेंड द्वारा दिया गया था। पुलिस ने आरोपी साइलेंट किलर को गिरफ्तार कर लिया है।

कहानी की शुरुआत होती है ग्रेटर नोएडा के अरिहंत आर्डन सोसायटी में रहने वाले एनटीपीसी टांडा के डीजीएम की पत्नी नीरजा चौहान की हत्या से। जांच के दौरान पता चलता है कि हत्या करने वाला पांचवीं पास है। यह भी जानकारी में आता है कि हत्यारे का नाम टिक-टॉक स्टार राघव कुमार है। इसने टिक-टॉक और लाईकी पर अपना एकाउंट साइलेंट किलर के नाम से बना रखा है।

टिक-टॉक स्टार राघव कुमार के करीब 20 हजार फॉलोअर हैं। पुलिस हैरत में तब पड़ जाती है जब उसे पता चलता है कि मारी गई महिला का भी स्मार्ट अनामिका के नाम से खाता था और उसके सवा दो लाख फॉलोअर हैं।

सोशल मीडिया से पनपे इस अपराध में पुलिस जांच आगे बढ़ी तो उसे पता चला कि दिल्ली के पीरागढ़ी कैंप के आरोपी राघव की टिक-टॉक और लाईकी पर करीब ढाई साल पहले स्मार्ट अनामिका से मुलाकात हुई जो कि वास्तव में एनटीपीसी के डीजीएम की पत्नी नीरजा चौहान थी। दोनों ने एक-दूसरे को अपने-अपने वीडियो बनाकर भेजना शुरू कर दिया।। वीडियो के बाद दोनों के बीच वीडियो कॉलिंग शुरू हुई और फिर मिलना-जुलना भी बढ़ गया। दोनो के बीच फोन पर लंबी-लंबी बातें हुआ करती थीं।

सोशल मीडिया स्टार्स का ऐसे हुआ झगड़ा

घटना के दिन राघव कुमार उर्फ साइलेंट किलर स्मार्ट अनामिका के फ्लैट पर पहुंचा और पांच हजार रुपये की मांग की। अनामिका ने पैसे देने से मना किया और टिक-टॉक पर ब्लॉक करने की धमकी दी।

इस पर आरोपी भड़क गया और उसने महिला के ऊपर हमला कर दिया और चेहरे पर ताबड़तोड़ घूंसे मारकर लहूलुहान करने के बाद फ्लैट से बाहर आ गया। साइलेंट किलर ने भागने से पहले फ्लैट में ताला भी लगा दिया। इधर अधिक खून बह जाने की वजह से महिला की मौत हो गई।

जांच में यह भी पता चला है कि नीरजा ने सोसायटी की सिक्योरिटी से युवक को अपना रिश्तेदार बताया हुआ था। नीरजा 12 फरवरी को शादी की सालगिरह पर पति के पास अयोध्या गई थी। यह भी पता चला है कि राघव से संबंध के बारे में परिवार को अधिक जानकारी नहीं थी, लेकिन यह पता था कि वह किसी से फोन पर बात करती थी। इसको लेकर उसका मनमुटाव भी हुआ था।

बीते गुरुवार को ग्रेटर नोएडा के ग्रेनो वेस्ट की अरिहंत आर्डन सोसाइटी में एनटीपीसी के डीजीएम की पत्नी की लाश मिलने के बाद सनसनी फैल गई थी और लोग कयास लगा रहे थे।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App