Top

वाहट्सऐप नई प्राइवेसी: सुप्रीम ने भेजा कंपनी को नोटिस, चार हफ्ते में मांगा जवाब

सुप्रीम कोर्ट ने व्हाट्सऐप की नई प्राइवेसी को लेकर नोटिस जारी किया है इसके साथ कोर्ट ने केंद्र सरकार को भी नोटिस जारी कर दिया है। व्हाट्सऐप फेसबुक कंपनी को सुप्रीम कोर्ट ने चार हफ्तों में इस नोटिस का जवाब देने को कहा है।

Shraddha Khare

Shraddha KhareBy Shraddha Khare

Published on 15 Feb 2021 10:03 AM GMT

वाहट्सऐप नई प्राइवेसी: सुप्रीम ने भेजा कंपनी को नोटिस, चार हफ्ते में मांगा जवाब
X
वाहट्सऐप नई प्राइवेसी: सुप्रीम ने भेजा कंपनी को नोटिस, चार हफ्ते में मांगा जवाब photos (social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : वाहट्सऐप की नई प्राइवेसी को लेकर अभी भी उपभोक्ताओं के मन में उनकी निजता को छीत्नने का डर बना हुआ है। जिसके चलते सुप्रीम कोर्ट ने व्हाट्सऐप और फेसबुक कंपनी को नोटिस जारी किया है जिसमें चीफ जस्टिस एस ए बोबडे ने इस कंपनी को कहा कि "आप भले ही 2 से 3 ट्रिलियन डॉलर वाली कंपनी हो लेकिन लोगों के उनकी प्राइवेसी काफी मायने रखती है और उनकी प्राइवेसी की रक्षा करना हमारी जिम्मेदारी बनती है। "

नई प्राइवेसी को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने जारी किया नोटिस

सुप्रीम कोर्ट ने व्हाट्सऐप की नई प्राइवेसी को लेकर नोटिस जारी किया है इसके साथ कोर्ट ने केंद्र सरकार को भी नोटिस जारी कर दिया है। व्हाट्सऐप फेसबुक कंपनी को सुप्रीम कोर्ट ने चार हफ्तों में इस नोटिस का जवाब देने को कहा है। उच्च न्यायालय ने इस याचिका में भारतीय व्हाट्सऐप उपभोक्ताओं को उनकी प्राइवेसी को लेकर आरोप लगाए हैं। अदालत ने कहा है कि लोगों को व्हाट्सऐप की नई प्राइवेसी से अपनी निजता को खोने का डर है।

चीफ जस्टिस एस ए बोबडे ने कही यह बात

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस एस ए बोबडे ने काफी कड़े शब्दों के साथ कंपनी को नोटिस जारी किया है। इसके साथ उन्होंने यह बताया है कि लोगों के लिए उनकी प्राइवेसी बहुत ही अहम होती है जिसकी रक्षा करना हमारी ड्यूटी है। इसके साथ उन्होंने कहा कि अभी भारत में डेटा संरक्षण पर कानून नहीं बनाया गया है। तब तक इस नई पॉलिसी को भारत में नहीं लाना चाहिए।

ये भी पढ़े.....मुंबई: 21 वर्षीय दिशा रवि की गिरफ्तारी को लेकर AAP करेगी प्रदर्शन

supreme court

अदालत ने निजता को लेकर कही यह बात

व्हाट्सऐप की नई पॉलिसी को लेकर वरिष्ठ अधिवक्ता श्याम दीवान ने कहा कि व्हाट्सऐप को भारत में इस नई प्राइवेसी को लाने से रोकना होगा। जिसके साथ उन्होंने यह भी कहा कि व्हाट्सऐप अपनी प्राइवेसी को लेकर भारत और यूरोपियंस के लिए दो अलग अलग नियम लेकर आए हैं। जिसके चलते व्हाट्सऐप पर यह आरोप लगाए गए हैं। आपको बता दें कि यूरोप में निजता को लेकर अलग नियम बनाए गए हैं। अदालत ने कहा कि जब भारत में भी यूरोप की तरह सामान्य कानून होगा तो यह नियम लागू किए जाएंगे।

ये भी पढ़े.....जम्मू कश्मीर: बडगाम पुलिस ने TuM और LeT से जुड़े दो आतंकी गिरफ्तार किए

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shraddha Khare

Shraddha Khare

Next Story