Top

Viral News: काम के लिए मां-बाप गए थे बाहर, 3 साल की बच्ची अकेले पहुंच गई डॉक्टर के पास, फोटो वायरल

Viral News: एक तीन साल की मासूम बच्ची को सर्दी जुखाम हुआ, तो वह अकेले ही डाॅक्टर के पहुंच गई, क्योंकि बच्ची के माता पिता घर पर मौजूद नहीं थे।

Network

NetworkNewstrack NetworkDharmendra SinghPublished By Dharmendra Singh

Published on 5 Jun 2021 12:45 PM GMT

Nagaland
X

महिला डाॅक्टर से बात करती बच्ची (फोटो: ट्विटर)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Viral News: कोरोना महामारी (Coronavirus Pandemic) की दूसरी लहर ने देश भर में भारी तबाही मचाई। अब हर व्यक्ति के मन में खौफ बैठ गया है कि कहीं उसे भी कोरोना वायरस ना हो जाए। ज्यादातर लोग बीमार होने पर डॉक्टर के पास और अस्पताल जाने से डर रहे हैं और दवा भी नहीं ले रहे। कम ही लोग इतने जागरुक हैं जो अपनी सेहत को लेकर चिंतित हैं और सर्दी जुखाम होने पर भी डॉक्टर के पास जा रहे हैं।

अब इस बीच नागालैंड से ऐक ऐसा ही मामला सामने आया है जिससे हम सभी को सीख लेने की जरूरत है। एक तीन साल की मासूम बच्ची को सर्दी जुखाम हुआ, तो वह अकेले ही डाॅक्टर के पहुंच गई, क्योंकि बच्ची के माता पिता घर पर मौजूद नहीं थे। इस उम्र में बच्चे ठीक से बोल भी नहीं पाते हैं और वह माता-पिता के बिना कहीं नहीं जा सकते हैं, लेकिन यह मासूम बच्ची मास्क लगाकर क्लीनिक चली गई और डॉक्टर को अपनी बीमारी के बारे में जानकारी दी। अब बच्ची की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है और लोग बच्ची की तारीफ कर रहे हैं।
सोशल मीडिया पर बच्ची की समझदारी को देखकर लोग उसकी खूब तारीफ कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि सभी को इस बच्ची से सीखना चाहिए। बीजेपी नेता Benjamin Yepthomi ने यह प्रेरणादायक पोस्ट ट्विटर पर शेयर किया है।


उन्होंने तस्वीर शेयर करते हुए कहा है कि तीन साल की मिस लिपवी खुद क्लीनिक चेकअप कराने पहुंच गईं। वहां पर इस तीन साल की बच्ची देखकर मेडिकल स्टाफ आश्चर्यचकित रह गया। बच्ची को सर्दी जुकाम हुआ था, क्योंकि उसके माता पिता खेत में काम करने के लिए चले गए थे। ऐसे में बच्ची खुद ही चेकअप कराने क्लीनिक जाने के फैसला कर लिया।
बच्ची के माता-पिता घर से काम के लिए निकल गए थे, कोरोना संकट में खुद को स्वस्थ और सुरक्षित रखना बच्ची जानती थी, इसलिए खुद ही क्लीनिक पहुंच गई। जब ऐसे समय में लोग जांच कराने और वैक्सीन लगवाने से डर रहे हैं, तो इस बच्ची ने दूसरों लोगों को प्रेरित किया है।


Dharmendra Singh

Dharmendra Singh

Next Story