Top

इन सवालों पर फंसे मौलाना साद, तबलीगी जमात की बढ़ी मुसीबतें

दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से कोरोना विस्फोट करने वाले तबलीगी जमात पर पुलिस-प्रशासन ने अपना शिकंजा कस लिया है। मौलाना साद समेत कई लोगों पर केस तो पहले ही दर्ज कर लिया गया था, जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने इन्हे नोटिस भेज कर जमात को होने वाली फंडिंग, विदेशी कनेक्शन आदि तमाम बातों का डिटेल माँगा।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 7 April 2020 5:31 AM GMT

इन सवालों पर फंसे मौलाना साद, तबलीगी जमात की बढ़ी मुसीबतें
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से कोरोना विस्फोट करने वाले तबलीगी जमात पर पुलिस-प्रशासन ने अपना शिकंजा कस लिया है। मौलाना साद समेत कई लोगों पर केस तो पहले ही दर्ज कर लिया गया था, जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने इन्हे नोटिस भेज कर जमात को होने वाली फंडिंग, विदेशी कनेक्शन आदि तमाम बातों का डिटेल माँगा।

मौलाना साद समेत तबलीगी जमात की कोर कमिटी मुश्किल में

दिल्ली पुलिस ने पिछले दिनों मरकज के मौलाना साद कंधालवी समेत तबलीगी जमात की कोर कमिटी के सात सदस्यों को नोटिस जारी किया। जवाब में मौलाना साद ने बिना दिल्ली पुलिस के सामने कहा कि वे क्वारंटीन में हैं।हालंकि उन्हें पुलिस प्रशासन को कई सवालों के जवाब देने हैं। इसी बाबत पुलिस की तलाश जारी है।

ये भी पढ़ेंः तब्लीगी जमात पर बड़ा खुलासा: सीएम उद्धव ने बतायी ये बात, चौंक जायेंगे आप

इन दो इस्लामिक देशों में बैन है तबलीगी जमात, जानें क्या है वजह

पुलिस ने मांगी ये जानकारियां:

1. पुलिस अब तबलीगी जमात को होने वाली फंडिंग के स्त्रोत का भी पता लगा रही है।

2. निजामुद्दीन मरकज मुख्यालय में पिछले तीन सालों में कितना टैक्स दिया गया, इसके लिए पैसा कहाँ से आया।

3. इन लोगों के खातों में कहां-कहां और कितना पैसा है, इन सभी डिटेल्स पैन कार्ड के साथ मांगी गयी है।

4. मरकज के प्रमुख मौलाना साद और अन्य 6 सदस्यों से उन विदेशियों और भारतीय जमातियों की लिस्ट भी मांगी गई है जिन्होंने 11 से 13 मार्च को मरकज के कार्यक्रम में शिरकत की थी।

ये भी पढ़ेंःदेश में ऐसे हटेगा लॉकडाउन, केंद्र सरकार ने तैयार कर ली रणनीति

5. कमेटी सदस्यों और कर्मचारियों की लिस्ट भी पुलिस ने मांगी है।

6. पुलिस ने सवाल किया है कि क्या इस बड़े आयोजन को करने के लिए प्रशासन से अनुमति ली गयी थी। अनुमति के लिए किससे सम्पर्क किया गया, वहीं लिखित अनुमति की डिटेल भी दें।

7.1 जनवरी से 1 अप्रैल तक मरकज में हुए सारे आयोजनों की जानकारी

ये भी पढ़ेंःजानिए UP में कितने हैं कोरोना मरीज, 24 घंटे में आए 27 नये केस में 21 जमात से

8. इन आयोजनों में शामिल लोगों की संख्या, नक्शा या साइट प्लान और परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरों की संख्या पूछी गयी है।

9. कार्यक्रम में शामिल लोगों की वीडियो/ऑडियो रिकॉर्डिंग के साथ ही ओरिजिनल रजिस्टर माँगा गया है, जिसमें लोगों ने अपनी डिटेल भरी हो।

10.मरकज की पार्किंग की देखरेख करने वालों और वॉलंटियरों की जानकारी भी पुलिस ने मांगी है।

11. कार्यक्रम के दौरान कौन सा मेहमान या जमाती बीमार हुआ, इसके लिए मरकज ने क्या कदम उठाये, ये सब ब्यौरा देना होगा।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story